DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बहू सास को गोद में उठाकर इलाज कराने पहुंची

बहू सास को गोद में उठाकर इलाज कराने पहुंची

लोहिया अस्पताल की ओपीडी में बुधवार को एक वृद्धा को दिखाने के लिए व्हीलचेयर नहीं मिली। काफी देर परेशान होन के बाद बहू ने सास को गोद में उठाया और फिर डॉक्टर के पास लेकर पहुंची। इसके बाद डॉक्टर ने वृद्धा को देखकर दवाइयां दीं।

शहर के गढ़ी हिम्मत बहादुर निवासी वृद्धा नफीसा को बुखार था। इसके चलते उनके पैरों में दिक्कत आ गई। चलने में भी उन्हें परेशानी हो गई। इस पर परेशान होकर उनकी बहू तवस्सुम उन्हें इलाज के लिए लोहिया अस्पताल लेकर पहुंची। ओपीडी में जब वह वृद्ध सास के लिए व्हील चेयर तलाश रही थी तो किसी ने उन्हें यह नहीं बताया कि व्हील चेयर कहां है। करीब आधे घंटे तक वह परेशान होती रही फिर बाद में मजबूर होकर उन्होंने सास को गोद में उठाया। फिर वह डॉक्टर अशोक कुमार को दिखाने के लिए पहुंची। उनके कक्ष के बाहर भीड़ लगी थी इसलिए यहां भी उन्हें काफी देर इंतजार करना पड़ा। बाद में देखा और दवाई दी। वहीं दूसरी ओर अस्पताल में टायफाइड और डायरिया के भी मरीज तेजी से बढ़ रहे हैं। सुबह को लोहिया अस्पताल काउंटर पर पर्चा बनवाने के लिए मरीजों की भीड़ रही। फिजीशियन अशोक कुमार के पक्ष में सबसे अधिक लाइन लगी हुई थी। डॉक्टर का कहना है कि मौसम के मिजाज के चलते मरीज बढ़ रहे हैं। बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर राजेश तिवारी के यहां भी भीड़ रही। नेत्र सर्जन डॉक्टर सर्वेश यादव ने भी रोगियो का इलाज किया। नेत्र रोगियों के लिए दवा का संकट है। डॉक्टर अशोक कुमार ने कहा कि गर्मी के सीजन में खान पान का विशेषध्यान रखना चाहिए। चिकनी, तली हुई, बाजारी खाद्य पदार्थो को खाने से बचाव रखें। दो से अधिक दस्त होने पर डॉक्टर से सलाह लें। डॉक्टर राजेश तिवारी ने बताया कि बच्चों को धूप से बचाएं। हल्के कपडे से शरीर ढककर ही घर से बाहर निकलें। तरल पदार्थो का सेवन कराएं। दस्त या बुखार आते ही डॉक्टर से सलाह लें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Bahu came to take Saas in the lap and got treatment