ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशआंगनबाड़ी के पुत्र का शव ट्रैक के समीप मिला, हत्या का आरोप

आंगनबाड़ी के पुत्र का शव ट्रैक के समीप मिला, हत्या का आरोप

फर्रुखाबाद, संवाददाता। आंगनबाड़ी कार्यकत्री के पुत्र का शव पितौरा क्रांसिंग के समीप रेलवे ट्रैक...

आंगनबाड़ी के पुत्र का शव ट्रैक के समीप मिला, हत्या का आरोप
हिन्दुस्तान टीम,फर्रुखाबाद कन्नौजWed, 15 May 2024 12:25 AM
ऐप पर पढ़ें

फर्रुखाबाद, संवाददाता।

आंगनबाड़ी कार्यकत्री के पुत्र का शव पितौरा क्रांसिंग के समीप रेलवे ट्रैक के पास मिला। इससे परिवार में कोहराम मच गया। परिजनों ने हत्या का आरोप लगाया है। उसकी ढाई माह पहले शादी हुई थी। घटना की जानकारी पर सीओ समेत फोरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल की।

नगर के पटवनगली मोहल्ला स्थित साई मंदिर गली निवासी सतेंद्र मोहन की पत्नी सदासुखी आंगनबाड़ी कार्यकत्री है। उनकी ड्यूटी लोकसभा चुनाव में लगी थी। सोमवार को आंगनबाड़ी कार्यकत्री का 30 वर्षीय पुत्र अंशू यादव मतदान संपन्न होने के बाद अपनी मां को बुलाने गया। मां को घर छोड़ने के बाद अंशू स्कूटी से कही चला गया। देर रात जब वह घर नहीं लौटा तो परिजन परेशान हुए। जानकारी की तो उसका कहीं पता नहीं चला। मंगलवार सुबह अंशू का शव कायमगंज अचरा मार्ग स्थित पितौरा रेलवे क्रांसिंग के समीप पोल संख्या 166/13/14 के पास क्षतविक्षत अवस्था में मिला। राहगीरों ने शव देखा तो सनसनी फैल गई। आसपास के ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। ग्रामीणों ने 112 पर काल कर सूचना दी। ट्रैक के समीप शव मिलने की जानकारी स्टेशन मास्टर को हुई तो उन्होंने ट्रैकमैन ज्ञानरतन को मौके पर भेजा रेलवे पुलिस को सूचना दी। आरपीएफ के एसआई ओमप्रकाश सिंह मौके पर पहुंचे। जहां जांच पड़ताल की। सीओ सतेंद्र कुमार सिंह, इंस्पेक्टर रामअवतार, कस्बा चौकी प्रभारी विद्यासागर तिवारी, हल्का इंचार्ज सुनील कुमार फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। क्षतविक्षत शव रेलवे क्रांसिंग से फर्रुखाबाद ट्रैक की ओर करीब पांच सौ मीटर दूर पड़ा है। शरीर का कुछ हिस्सा आसपास गिरा था। इसी बीच शरीर का कुछ हिस्सा कुत्ते ले जाने लगे तो पुलिस ने दौड़कर कुत्ते से छीन कर शव के पास रखा। घटनास्थल से कुछ दूरी पर टूटा हुआ मोबाइल मिला। पुलिस ने अपनी सुपुर्दगी में ले लिया। ट्रैक के दूसरी तरफ उसकी बनियान मिली। पास में ही खून से लथपथ शर्ट पाई गई। जबकि जहां शव पड़ा था वहां से करीब तीन सौ मीटर की दूरी पर क्रांसिंग के बंबे के पास बीच ट्रैक पर उसकी पेंट मिली। पास में ही स्कूटी खड़ी पाई गई। जहां शराब का एक रैपर व एक कोल्ड ड्रिंक की बोतल मिली। पुलिस ने शव की तलाशी ली लेकिन कुछ नहीं मिला। पास एक आधार कार्ड मिला। उसके आधार पर परिजनों को सूचना दी गई। सूचना पर पहुंची मृतक की मां सदासुखी ने बेटे का शव देखा तो चीत्कार उठी बदहवास हो गई। परिजनों के चीखपुकार से कोहराम मच गया। बड़े भाई अपूर्व यादव ने बताया कि मां को घर छोड़ने के बाद उसका भाई घर से कहीं गया था। रात में खोजबीन की लेकिन कही पता नहीं चला। मां का कहना था उसके बेटे को मार कर ट्रैक पर डाल दिया गया। उसकी शादी तीन माह पहले हुई थी। इस वक्त उसकी पत्नी मायके में है। घटना की जानकारी ससुराल वालों को दी गई है। इधर मौत को लेकर रहस्य होने पर फोरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंची। जहां उसने ब्लड आदि के नमूने लिए। अन्य साक्ष्य एकत्रित किए। पुलिस ने शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। कस्बा चौकी प्रभारी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही असल स्थिति साफ होगी। घटना को लेकर जांच की जा रही है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।