DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › आंसुओं के सैलाब के बीच जवान को दी गई अंतिम विदाई
फर्रुखाबाद कन्नौज

आंसुओं के सैलाब के बीच जवान को दी गई अंतिम विदाई

हिन्दुस्तान टीम,फर्रुखाबाद कन्नौजPublished By: Newswrap
Thu, 08 Jul 2021 05:40 AM
आंसुओं के सैलाब के बीच जवान को दी गई अंतिम विदाई

फर्रुखाबाद। संवाददाता

आंसुओं के सैलाब के बीच याकूतगंज के लाल सचिन यादव को अंतिम विदाई दी गई। फूलों से सजी गाड़ी जब श्मशानघाट पर पहुंची तो सचिन की विदाई में सैलाब उमड़ पड़ा। भारत माता की जय की गूंज रही। विदाई में हर आंख नम हुई। सम्मान के साथ जवान के शव का अंतिम संस्कार किया गया।

सीआरपीएफ के जवान याकूतगंज निवासी सचिन यादव की दो दिन पहले श्रीनगर में गोली लगने से मौत हो गई थी। मंगलवार की देर रात सीआरपीएफ के उपनिरीक्षक प्रशंात राय, आठ जवानो की टोली के साथ गाड़ी से सचिन का शव पैतृक गांव याकूतगंज लेकर पहुंचे। शव के घर आते ही परिवार में कोहराम मच गया। पिता पूर्व प्रधान जितेंद्र सिंह यादव के अलावा मां, भाई, बहनो का रो रोकर बुरा हाल हो गया। बुधवार की सुबह पूर्व प्रधान के घर आस पास के गांव के ग्रामीण बड़ी संख्या में पहुंचे और शोक संवेदना व्यक्त की। सुबह आठ बजे के बाद फूलों से सजी गाड़ी से सचिन का शव अंतिम संस्कार के लिए पांचालघाट के लिए चला तो बड़ी संख्या में लोग साथ चले। भारत माता की जय के नारे गूंजते रहे। सुबह 9.45 बजे के आस पास जब सचिन का शव पांचालघाट पर पहुंचा और जैसे ही गाड़ी से उतारा गया तो विधायक मेजर सुनीलदत्त द्विवेदी ने कंधा दिया। यहां पर सीओ सिटी नितेश सिंह के अलावा शहर और फतेहगढ़ के प्रभारी निरीक्षक भी मौजूद रहे। पांचालघाट चौकी इंचार्ज के अलावा याकूतगंज चौकी इंचार्ज भी थे। जवान के छोटे भाई हंसराज ने जब सचिन के शव को मुखाग्नि दी तो सभी की आंखें नम हो गईं। पिता जितेंद्र सिंह को लोगों ने ढांढस बंधाया। इस दौरान सीआरपीएफ के उपनिरीक्षक प्रशांत राय के अलावा हवलदार कपिलदेव व अन्य जवान मौजूद रहे। बताया गया कि हवलदार कपिलदेव ही सचिन के शव को श्रीनगर से लेकर लखनऊ आए फिर वहां से उपनिरीक्षक प्रशांत राय की देख रेख में शव को गांव तक लाया गया।

संबंधित खबरें