अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरती ने जहर खाया या जबरन खिलाया गया

आरती ने जहर खाया या जबरन उसे खिलाया गया। वहीं दोस्त रामतीर्थ जहर खाने के बाद बेहोशी की अवस्था में मिला था। पोस्टमार्टम में दोनों के शरीर में मिले जहर की पुष्टि के लिए बिसरा सुरक्षित कर लिया गया है। ऐसे में गला घोटने की बात तो पोस्टमार्टम में चिकित्सक ने साफ नकार दी है। शरीर पर कहीं चोट के निशान भी नहीं पाए गए।

मोहम्मदाबाद कोतवाली के गांव नकटपुर निवासी छात्रा आरती का शव मंगलवार की सुबह खेत में पड़ा मिला था। कुछ दूर ही पेड़ के नीचे उसके दोस्त रामतीर्थ जहर खाने के बाद बेहोशी हालत में मिला था। उसकी अस्पताल में मौत हो गई। रामतीर्थ के शव का पोस्टमार्टम कराया गया जिसमें जहर की पुष्टि के लिए बिसरा सुरक्षित किया गया वहीं आरती की मौत के मामले में परिजनों ने रामतीर्थ व उसके भाई गुरुवक्श, पिता छक्कूलाल के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया। जिसमें बताया कि रामतीर्थ से दोस्ती होने के कारण इन लोगों ने पुत्री की गला घोटकर हत्या कर दी। पुलिस ने आरती के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम कराया। जिसमें आरती की मौत का कारण भी स्पष्ट नहीं हो सका।जहर की पुष्टि के लिए बिसरा सुरक्षित किया गया। गला घोटने की बात तो पोस्टमार्टम में नहीं निकली। ऐसे में परिजनों की दर्ज कराई रिपोर्ट व मुकदमे के गवाह कहीं साजिशन तैयार तो नहीं किए गए। आरती ने जहर खाया या उसे जबरन खिला दिया गया अब इस बात की गहनता से जांच होगी। आरती व रामतीर्थ के मोबाइल घटनाक्रम का राज खोलेंगे। पुलिस इस ओर तेजी से काम कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Aarti poisoned or fed for poison