ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश फैजाबादप्राणप्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर बढ़ेगी ट्रेनों की संख्या

प्राणप्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर बढ़ेगी ट्रेनों की संख्या

तैयारी के मद्देनजर लखनऊ मंडल के डीआरएम मनीष थपलयाल पहुंचे अयोध्या किया और स्टेशन का निरीक्षण...

प्राणप्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर बढ़ेगी ट्रेनों की संख्या
हिन्दुस्तान टीम,फैजाबादSun, 03 Dec 2023 11:20 PM
ऐप पर पढ़ें

- तैयारी के मद्देनजर लखनऊ मंडल के डीआरएम मनीष थपलयाल पहुंचे अयोध्या किया निरीक्षण

- अधिकारियों को दिए निर्देश, श्रद्धालुओं की संख्या को देखते हुए बढ़ाई जाए यात्री सुविधा

अयोध्या, संवाददाता। देश के अलग-अलग राज्यों से यात्री श्रद्धालुओं को अयोध्या तक लाने की तैयारी रेलवे ने शुरू कर दी है। इसके लिए ट्रेनों की संख्या बढ़ाए जाने की योजना पर काम शुरू हो गया है। तैयारी के मद्देनजर लखनऊ मंडल के डीआरएम मनीष थपलयाल ने अयोध्या कैंट और जंक्शन स्टेशन का निरीक्षण किया। निर्माण एजेंसी राइट्स के अधिकारियों से बैठक कर निर्माण कार्यों की प्रगति को समझा और जल्द कार्यों को पूरा करने को कहा है।

डीआरएम ने सबसे पहले अयोध्या कैंट स्टेशन पंहुच कर यात्री सुविधाओं सहित ट्रेनों के ठहराव के स्थान को देखा। इसके बाद रोड मार्ग से अयोध्या जंक्शन पहुंचकर उन्होंने रेल और राइट्स कंपनी के अधिकारियों के साथ बैठक की। इसके बाद उन्होंने जानकारी देते हुए उन्होंने कहा जनवरी में कुछ ट्रेन सर्विसेज बढ़ेंगी। इसलिए यात्रियों की संख्या भी ज्यादा आएगी। उन्होंने कहा उसकी समीक्षा की जा रही है कि ज्यादा यात्रियों को कैसे अधिक से अधिक सुविधा प्रोवाइड करा सकें। उन्होंने कहा पटरियों की डबलिंग का कार्य अंतिम चरण में है। इसे जल्द से जल्द पूरा करने को कहा गया है। उन्होंने कहा कुछ दिन बाद ट्रेन कहां से आएगी और कब चलेगी इसकी अधिसूचना जारी की जाएगी। इस दौरान उनके साथ स्टेशन अधीक्षक राजीव रंजन भी मौजूद रहे।

200 अतिरिक्त ट्रेनों के चलाए जाने की योजना

रेल सूत्रों की माने तो देश के अलग-अलग राज्यों सहित कई अन्य लोगों ने प्राण प्रतिष्ठा के बाद अयोध्या तक ट्रेनों को बुक कर जाने के लिए आवेदन करना शुरू कर दिया है। इसी के साथ विभाग भी कई जगहों से अयोध्या होकर ट्रेनों को ले जाने की योजना में है। यही कारण है कि रेल विभाग ने तैयारियों को अमली जामा पहनाना शुरू कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक अभी फिलहाल रेल विभाग किसी का आवेदन स्वीकार्य नही किया है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें