DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › अनाधिकृत पैथलॉजी ने प्लेटलेट्स जांच में किया गुमराह
इटावा औरैया

अनाधिकृत पैथलॉजी ने प्लेटलेट्स जांच में किया गुमराह

हिन्दुस्तान टीम,इटावा औरैयाPublished By: Newswrap
Sun, 26 Sep 2021 11:32 PM
अनाधिकृत पैथलॉजी ने प्लेटलेट्स जांच में किया गुमराह

जसवंतनगर। संवाददाता

स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही व अनदेखी के कारण क्षेत्र में बिना रजिस्ट्रेशन के संचालित पैथालॉजी लोगों की सेहत से खिलबाड़ कर रहीं हैं। कभी प्लेटलेट्स कम करके या फिर कभी डेंगू और मलेरिया की पॉजिटिव रिपोर्ट देकर लोगों के साथ धोखा किया जा रहा है। और तो और इस खेल की जानकारी निजी व सरकारी डॉक्टरों को भी है इसके बावजूद न तो कोई शिकायत करने वाला है और न ही कोई कार्यवाही। लिहाजा ऐसे में इन अप्रशिक्षित पैथलॉजी के संचालक खुलेआम जनता को बेवकूफ बना रहे है। ताजा मामला राजपुर के रहने वाले 34 वर्षीय सर्वेश कुमार प्रजापति के साथ घटित हुआ है। सर्वेश को पिछले कुछ दिनों से बुखार की समस्या थी। तो उन्होंने अपना ब्लड टेस्ट नगर के पड़ाव मंडी स्थित एक पैथोलॉजी में 24 सितंबर को कराया। जिसकी जांच रिपोर्ट में 28 हजार प्लेटलेट्स दर्शाए गए। उसी दिन सर्वेश ने रेलमंडी स्थित एक पैथोलॉजी पहुंचकर जांच करायीं तो सिर्फ 19 हजार प्लेटलेट्स दर्शाए गए। फिर दोपहर तीन बजे करीब एक अन्य प्रतिष्ठित पैथोलॉजी ने उनकी प्लेटलेट्स 28 हजार बतायीं। अगले दिन 25 सितंबर को जब पड़ाव मंडी स्थित पैथोलॉजी में फिर से टेस्ट कराया तो 17 हजार प्लेटलेट्स दर्शाए गए। सर्वेश कुमार ने निजी चिकित्सक से दवा लेकर 26 सितंबर को सुबह 11 बजे करीब उसी पैथोलॉजी में टेस्ट कराया तो प्लेटलेट्स की संख्या 13 हजार रह गईं। यह देख सर्वेश व उसके परिजनों के होश उड़ गए उन्होंने जब दो बजे करीब इटावा पहुंचकर एक प्रतिष्ठित पैथोलॉजी में टेस्ट कराया तो प्लेटलेट्स 36 हजार दर्शाए गए। तीन दिन में छह बार जांच के बाद प्लेटलेट्स का कम ज्यादा का खेल मरीज भी समझ गया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक सुशील कुमार का कहना है कि नगर में कई पैथोलॉजी अपंजीकृत तरीके से संचालित की जा रही हैं। जिन्हें चिन्हित कराया जाएगा और उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। साफ है कि अधीक्षक भी इस बार अनभिज्ञ नहीं है कि कस्बा में खुलेआम अनाधिकृत अल्ट्रासाउंड, पैथलॉजी व नर्सिंग होम का खेल चल रहा है।

संबंधित खबरें