ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशसफारी पर पड़ी कोरोना की मार नहीं आ रहे पर्यटक

सफारी पर पड़ी कोरोना की मार नहीं आ रहे पर्यटक

इटावा हिंदुस्तान संवाद इटावा में बनी विश्व स्तरीय सफारी पर कोरोना की मार पड़ी...

सफारी पर पड़ी कोरोना की मार नहीं आ रहे पर्यटक
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,इटावा औरैयाTue, 27 Apr 2021 11:32 PM
ऐप पर पढ़ें

इटावा हिंदुस्तान संवाद

इटावा में बनी विश्व स्तरीय सफारी पर कोरोना की मार पड़ी है इस बीमारी के चलते पर्यटकों का सफारी में आना जाना बेहद कम हो गया है। इससे सफारी की आमदनी पर भी काफी विपरीत प्रभाव पड़ रहा है हालांकि सफारी खुली है और बसें भी चल रही हैं लेकिन पर्यटक ही नहीं पहुंच रहे हैं।

इटावा सफारी पार्क का अपना अलग ही आकर्षण है पिछले साल 25 नवंबर को जब सफारी को पर्यटकों के लिए खोला गया था तो यहां पर्यटकों की भीड़ उमड़ पड़ी थी। उस समय स्थिति यह थी कि 1 दिन में औसतन 500 पर्यटक सफारी में आते थे और सफारी को लगभग एक लाख की आय टिकटों की बिक्री से होती थी। फिर अचानक लॉकडाउन लग गया और सफारी को बंद कर दिया गया लॉक डाउन के बाद जब अक्टूबर में सफारी खुली उस समय भी स्थितियां इतनी खराब नहीं थी और लगभग डेढ़ सौ से 200 पर्यटक प्रतिदिन सफारी आ रहे थे लेकिन अब पिछले 1 महीने से ऐसा लगता है कि पर्यटकों ने सफारी की ओर से मुंह मोड़ लिया है। अब स्थिति यह है कि रोजाना सिर्फ 15 या 20 पर्यटक ही सफारी आते हैं वीकेंड लॉकडाउन से पहले पिछले शुक्रवार को सिर्फ 15 पर्यटक सफारी में पहुंचे थे।

पर्यटकों को होने वाली टिकटों की बिक्री सफारी की आय है। स्वाभाविक रूप से जैसे-जैसे पर्यटकों की संख्या घट रही है वैसे-वैसे आमदनी भी घट रही है। कोरोना की मार्ग जिस तरह अन्य क्षेत्रों पर पड़ी है इटावा सफारी भी कोरोना की मार से बच नहीं सकी है और यहां भी सफारी की रौनक कोरोना के चलते गायब सी हो गई है। सफारी के डायरेक्टर केके सिंह का कहना है कि सफारी में पर्यटकों की संख्या बढ़ाने के लिए पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए उपाय किए जाएंगे।

शेरों का आकर्षण और बंद है लॉयन सफारी

इटावा। सफारी पार्क में सबसे ज्यादा आकर्षण का केंद्र शेर हैं इसकी शुरुआत ही लॉयन सफारी से की गई थी लेकिन कई कारणों से लॉयन सफारी को अभी पर्यटकों के लिए नहीं खोला गया है। इसके चलते पर्यटक शेयर नहीं देख पाते हैं और निराश हो जाते हैं शेर ना देख पाने की बात जानकर बहुत से पर्यटक सफारी में आते ही नहीं है। सफारी में पर्यटकों की संख्या बढ़े इसके लिए यह जरूरी है कि लॉयन सफारी को जल्द ही खोला जाए ताकि पर्यटक शेरों का दीदार कर सकें। शेरों को खुले में रहने का रिहर्सल भी कराया जा चुका है लेकिन कोरोना के चलते अभी तक लॉयन सफारी को खोला नहीं जा सका है।

अभी तो लेपर्ड सफारी भी नहीं खुली

इटावा। सफारी पार्क में जो आधा दर्जन सफारिया बनाई गई हैं उनमें लेपर्ड सफारी भी शामिल है। इसके लिए तीन लेपर्ड मंगाई जा चुके हैं तथा तीन अन्य लेपर्ड अलग-अलग जिलों से रेस्क्यू करके लाए गए हैं जो सफारी में हैं लेकिन अभी तक लेपर्ड सफारी को पर्यटकों के लिए नहीं खोला गया है। लेपर्ड सफारी को खोल दिया जाए तो यह भी एक आकर्षण होगा और इससे पर्यटकों की संख्या बढ़ सकती है।

विधानसभा चुनाव 2023 के सारे अपड्टेस LIVE यहां पढ़े