DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  किसान के घर में घुसे चोर, कुंडे काटकर लाखों का सामान ले गए

इटावा औरैयाकिसान के घर में घुसे चोर, कुंडे काटकर लाखों का सामान ले गए

हिन्दुस्तान टीम,इटावा औरैयाPublished By: Newswrap
Sat, 12 Jun 2021 04:31 AM
किसान के घर में घुसे चोर, कुंडे काटकर लाखों का सामान ले गए

इकदिल। संवाददाता

कस्बा इकदिल के रीतौर गांव में चोरों ने एक किसान के घर को निशाना बनाकर लाखों रुपए के जेवरात समेत नगदी समेट ले गए और किसान व उसके पुत्र को चोरी की भनक तक नहीं लग सकी। चोर घर के बगल में बनी पड़ोसी के शौचालय पर चढ़कर घर में दाखिल हुए और बाद में दरवाजे के कुंडे काटकर पीछे के रास्ते भाग जाने में सफल रहे। सुबह जब घर के दरवाजे व बक्सों के टूटे कुंडे देख परिजनों को चोरी की जानकारी हो सकी। पीड़ित ने पांच लाख रुपए का नुकसान होने की जानकारी देते हुए पुलिस को सूचना दी।

नेशनल हाइवे से सटे गांव रीतौर के रहने वाले गोरे लाल शाक्य पेशे से किसान है। खेतीबाड़ी कर परिवार की आजीविका चलाते हैं। गुरुवार की रात उनका पुत्र धर्मेन्द्र अपनी पत्नी के साथ खाना खाने के बाद छत पर सोने चला गया था। जबकि गोरे लाल व उनकी पत्नी घर के बाहर बंधे जानवरों की रखवाली के लिए पास में ही चारपाई बिछाकर सो गए थे। देर रात चोरों ने उनके घर पर धाबा बोलकर मकान के बगल में बनी पड़ोसी के शौचालय के सहारे छत पर चढ़कर नीचे उतरकर कमरों में रखे बक्से व अलमारी खोलकर उसमें रखे सोने चांदी के जेवरात व नगदी समेट कर रफूचक्कर हो गए।

शुक्रवार की सुबह जब किसान गोरे लाल शाक्य व उसकी पत्नी जागकर घर के अंदर गयी तो पिछले दरवाजे के कुडे़ कटे पड़े होने के साथ कमरों में सामान बिखरा पड़ा देख दंग रह गई। इस पर शोर मचाया तो पुत्र भी जाग गया। नीचे आकर जब उन्होंने कमरें में रखे अपने सामान की पड़ताल की तो सोने की चैन, दो जोड़ी झुमकी, मंगलसूत्र, चार अंगूठी, दो जोड़ी पायलें, दो करधनी हॉफ व फुल समेत मिर्च बेचकर प्राप्त हुए 40 हजार रुपए की नगदी भी चोरी कर ले गए थे। पीड़ित ने बताया कि उनकी विवाहित बेटी का जेवरात उनके घर में रखा हुआ था जो लगभग दो लाख रुपए के होंगे चोर उसे भी चुरा ले गए। पीड़ित ने बताया कि उनके घर से लगभग पांच लाख रुपए का माल चोरी गया है। घटना की सूचना डायल-112 पर करने के बाद कस्बा इंचार्ज एसआई श्रीकृष्ण यादव पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और जांच पड़ताल कर आश्वासन देकर चले गए लेकिन न तो मुकदमा दर्ज किया और न ही चोरों की तलाश की गई।

संबंधित खबरें