DA Image
30 नवंबर, 2020|4:35|IST

अगली स्टोरी

हड़कम्प- सरकारी आवासों में वर्षो से डेरा अब होगी वसूली

हड़कम्प- सरकारी आवासों में वर्षो से डेरा अब होगी वसूली

सरकारी आवासों में वर्षो से डेरा जमाए बैठे और किराया भी जमा न करने वाले कर्मचारियों की अब खैर नहीं। ऐसे लोगों से न सिर्फ सरकारी आवास खाली कराया जाएगा इसके साथ ही जितने दिनों से वे इस आवास में कब्जा जमाए हैं उसका सरकारी दर किराया भी वसूला जाएगा। इससे हड़कम्प मचा हुआ है। सैफई ब्लाक में ही 23 आवासों पर इस तरह से लोग अनिधकृत कब्जा जमाए हैं। इनमें से दो लोग तो 20 वर्षो से कब्जा जमाए हैं। सीडीओ ने इनसे किराया वसूल किए जाने के आदेश जारी कर दिए हैं। इन 23आवासों में रहने वालों से 35 लाख 42हजार 277 रुपए की वसूली की जाएगी।

ब्लाकों में अधिकारियों व कर्मचारियों के रहने के लिए आवास की व्यवस्था की गई है ताकि उन्हे असुविधा न हो। इसे लेकर जब जांच की गई तो पूरा मामला खुल गया। यहां कभी किसी कर्मचारी को आवास दिया गया उसके बाद वह इस ब्लाक से चला गया लेकिन आवास खाली नहीं किया। आवास पर वही कर्मचारी व उनके परिजन रह रहे हैं। इसके चलते नये कर्मचारियों के लिए आवास की समस्या उत्पन्न हो गई। इन्हे आवास देने के लिए आवास की स्थिति देखी गई तो यह बात सामने आई कि इसमें तो वर्षो से लोग अनधिकृत रूप से निवास कर रहे हैं। इस संबंध में सैफई के खंड विकास अधिकारी बृजमोहन अम्बेड ने बताया कि ब्लाक में इस तरह के 23 आवास हैं। इनमें एक आवास में तो एक परिवार पिछले 20 वर्षो से रह रहे हैं। इसी तरह एक आवास में 20 वर्षो से एक धार्मिक संस्था का संचालन हो रहा है। एक आवास में पुलिस विभाग के कर्मचारी 10 वर्षो से रह रहे हैं। एक स्वास्थ्य कर्मी 8 वर्षो से एक क्वार्टर में हैं। इसी प्रकार अन्य आवासों में भी लोग ट्रांसफर के बाद भी जमे हुए हैं।

श्री अम्बेड ने बताया कि इन सभी से इनके आवास में रहने की अवधि का किराया वसूल किया जाएगा। इसके लिए सीडीओ डा. राजा गणपति आर ने निर्देश जारी कर दिए हैं। यह भी तय कर दिया गया है कि किससे कितनी वसूली की जाएगी। प्रक्रिया शुरू भी कर दी गई है। प्रशासन की इस कार्रवाई से सरकारी आवासों में अनधिकृत रुप से रहने वालों में हड़कम्प मचा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Struggle - Dera will now be available for years in government houses