DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पानी की बर्बादी रोकें, नहीं तो तरसेंगी पीढ़ियां- रामगोपाल

पानी की बर्बादी रोकें, नहीं तो तरसेंगी पीढ़ियां- रामगोपाल

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ काशी प्रांत के संगठन मंत्री रामगोपाल ने आने वाले समय में जलसंकट पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि समाज के ऐसे लोगों को सावधान हो जाना चाहिए जो पानी को जरूरत से ज्यादा बर्बाद कर रहे हैं देखने में आता है कि आज लोग नहाने में पांच दस बाल्टी पानी बहा देते हैं। ऐसे लोगों की वजह से आने वाली पीढ़ी को जन संकट का सामना करना पड़ेगा।

धर्म प्रसार व समाजसेवा से जुड़े राजेश दीक्षित के आवास पर विश्व हिन्दू परिषद व अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं के बीच चर्चा करते हुए संगठन मंत्री रामगोपाल ने कहा कि पहले झांसी में पानी की एक धर्मशाला हुआ करती थी। बुंदेलखंड में अनेकों तालाब व जलाशय लोगों की जरूरतों के साथ साथ जानवरों की भी जरूरतें पूरी करते थे। आज नदियों का भी जल स्तर दिनों दिन गिरता जा रहा है आने वाले समय में जो संकट का संदेश दे रहा है इससे हम सबको समय रहते अपनी बर्बादी की आदतों मैं सुधार कर लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि आज रेलवे स्टेशन व बस स्टैंड पर भी लोग पानी के लिए भटकते हुए देखे जाते हैं। सामाजिक संस्थाएं ऐसे लोगों की इस भीषण गर्मी में मदद कर रही हैं।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना समाज में समरसता एवं सामाजिक मूल्यों की रक्षा तथा समाज के हर वर्ग को समाज से जोड़कर सामाजिक व्यवस्थाओं को बनाए रखने के लिए हुई है। हम सब की जिम्मेदारी बनती है कि सामाजिक व्यवस्थाओं को समय रहते बिगड़ने से बचाएं। इस मौके पर राजेश दीक्षित ने स्वामी अड़गड़ानंद महाराज द्वारा रचित यथार्थ गीता तथा अंग वस्त्र भेंट कर दादाजी को सम्मानित किया। इस मौके पर विहिप के जिलाध्यक्ष विनोद शर्मा, धर्म प्रसार संयोजक अवधेश भदौरिया, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के जिला संगठन मंत्री सुमित व अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Stop the waste of water, if not craving generations- Ramgopal