DA Image
25 जनवरी, 2021|9:31|IST

अगली स्टोरी

छात्राओं को समझाए गए संविधान के प्रावधान

छात्राओं को समझाए गए संविधान के प्रावधान

इटावा। हिन्दुस्तान संवाद

शहर के पुराना शहर स्थित शीतल प्रसाद शोरावाल बालिका इंटर कॉलेज में विधिक साक्षरता शिविर लगाया गया। ज़िला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में आयोजित हुए शिविर में छात्राओं को महिला अधिकारों से सम्बंधित संविधान के प्रावधानों की जानकारी दी गई। छात्राओं को बताया गया कि अगर उनके अधिकारों का हनन होता है तो किस तरह वे संविधान की मदद से मुकाबला कर सकती हैं।

मुख्य अतिथि जिला विधिक सेवा की सचिव नूहिन जैदी का प्रधानाचार्य सुमन ने प्रतीक चिन्ह भेंटकर स्वागत किया। साथ ही छात्राओं ने स्वागत ज्ञान प्रस्तुत किया। इसके बाद सचिव नूहिन जैदी ने संविधान के महत्वपूर्ण प्रावधानों पर प्रकाश डाला। जिसमें महिलाओं के लिए विशेष अधिकारों की व्यवस्था की गई है। साथ ही महिलाओं की शिक्षा, समानता, सुरक्षा एवं सही पोषण के संबंध में अधिकारों की जानकारी दी।इसके अलावा बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम, स्त्री अशिष्ट रूपण अधिनियम, पीसीपी एनडीटी एक्ट 1994 सहित अन्य क़ानूनों की जानकारी भी दी गई। उन्होंने बताया कि बालिका दिवस का प्रारंभ, महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा 2008 में, महिलाओं के अधिकारों के प्रति जागरूकता एवं उनके प्रति लोगों की सोच में परिवर्तन लाने के उद्देश्य से किया गया था। उन्होंने छात्राओं को आत्मसम्मान से जीवन गुज़ारने, शिक्षा के प्रति ध्यान देने, अपने परिवार, विद्यालय का नाम रोशन करने के अपील की। साथ ही उन्होंने छात्राओं से कहा कि मोबाइल फोन का सदुपयोग करें व उसके दुष्परिणामों से भी सचेत रहें।

शिविर में एडीआईओएस मुकेश यादव, शिक्षिका बबिता सिंह, आकांक्षा, कल्पना, विभा, वंदना सक्सेना समेत विद्यालय स्टाफ मौजूद रहा। कार्यक्रम का संचालन आशेंदू कुमारी और उप प्रधानाचार्य अनामिका वर्मा ने सभी का आभार जताया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Provisions of the constitution explained to the girl students