DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › बरसात से गरीब का कच्चा मकान गिरा, बाल-बाल बचे परिजन
इटावा औरैया

बरसात से गरीब का कच्चा मकान गिरा, बाल-बाल बचे परिजन

हिन्दुस्तान टीम,इटावा औरैयाPublished By: Newswrap
Sun, 26 Sep 2021 11:21 PM
बरसात से गरीब का कच्चा मकान गिरा, बाल-बाल बचे परिजन

उदी। संवाददाता

बढपुरा थाना क्षेत्र के बगियापुरा गांव में रहने वाले एक गरीब मजदूर का कच्चा घर कई दिनों से हो रही बरसात के कारण रविवार की तड़के भर-भराकर ढह गया। हादसा उस समय हुआ जब परिवार के लोग घर के आंगन में सो रहे थे। मकान गिरने की आवाज से परिवार के लोगों अफरा-तफरी मच गई। हालांकि किसी को चोट नहीं पहुंची लेकिन गृहस्थी का सामान मलबे में दबकर नष्ट हो गया।

गृहस्वामी श्रीपत ने बताया कि शनिवार की रात वह अपनी पत्नी व बच्चों के साथ घर के अांगन में सो रहा था। तभी रात करीब तीन बजे अचानक उसका कच्चा मकान भर-भराकर गिर गया। जिसमें रखा अनाज, सरसों, भूसा, साइकिल, व घरेलू सामान उसके मलबे में दबकर नष्ट हो गया है। मकान धराशाही होने की तेज आवाज सुनकर गांव में हड़कम्प मच गया। आनन-फानन में आस-पड़ोस में रहने वाले लोग श्रीपत व उसके परिवार को बचाने दौड़ पडे़ और मलबे में बीच फंसे परिवार को सकुशल बाहर निकाला। गनीमत रही कि पूरा परिवार हादसे में सुरक्षित बच गया। पीड़ि़त श्रीपत ने बताया कि सुबह होने पर परिवार के लोग के मलबा हटाकर सामान को बाहर निकाला लेकिन हादसे में कोई सामान सुरक्षित नहीं बच सका। जिससे उसके सामने भरण-पोषण का भी संकट खड़ा हो गया है। पीड़ित ने बताया कि उसने मकान गिरने की जानकारी राजस्व विभाग को दी लेकिन इसके बावजूद भी लेखपाल आदि जाँच पड़ताल के लिए नही पहुंचे। गांव के लोगों ने बताया कि श्रीपत का परिवार बेहद गरीब है वह मेहनत मजदूरी करके अपने परिवार का भरणपोषण करता है। ग्राम प्रधान व अन्य लोगों ने जिला प्रशासन से पीड़ित परिवार को मुआवजा दिलाने की मांग की गई।

संबंधित खबरें