DA Image
11 अगस्त, 2020|7:04|IST

अगली स्टोरी

इटावा की धरती से होगा अंतरराष्ट्रीय आयोजन

इटावा की धरती से होगा अंतरराष्ट्रीय आयोजन

कोविड-19 के चलते लॉकडाउन चल रहा है। इस दौर में विकास प्रबंधन में आने वाली चुनौतियों को लेकर एक अंर्तराष्ट्रीय सम्मेलन कराया जा रहा है जो समय की मांग के अनुरूप ऑनलाइन होगा। खास बात यह है कि इस सम्मेलन का केन्द्र इटावा होगा। इसके लिए तैयारियां कर लीं गईं हैं। सम्मेलन में इस बात पर विचार होगा कि इन चुनौतियों से कैसे निपटा जा सकता है। यह जानकारी सम्मेलन के समन्वयक अरविन्द दीक्षित ने दी। सम्मेलन 10 व 11 जुलाई को होगा।

श्री दीक्षित ने पत्रकारों से बातचीत में बताय कि ऑफलाइन किसी भी प्रकार के सम्मेलनों पर प्रतिबंध के चलते विश्व विद्यालय अनुदान आयोग द्वारा शैक्षिक ब ज्ञान के आदान प्रदान की प्रक्रिया के लिये ऑनलाइन आयोजन पर बल दिया गया था । ऑनलाइन तकनीक से आयोजित यह वेविनार अपने आप मे पहला ऐसा अंतराष्ट्रीय सम्मेलन है जिसमे विश्वविख्यात प्रबुद्ध वर्ग के लोग भागीदारी करेंगे। इनमें प्रोफेसर, वैज्ञानिक, शिक्षक, शोधार्थी एक ही मंच पर उद्यमियों, किसानों, डाक्टरों व कानूनविदों के साथ ही घरों के प्रबंध में लगी रहने वाली महिलाएं भी अपना अनुभव साझा करेंगी। दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्विद्यालय से सम्बंधित वीआरडी पीजी कालेज देवरिया द्वारा आयोजित इस सम्मेलन के संयोजक सचिव प्रोफेसर डा. प्रदीप द्विवेदी इटावा के ही रहने वाले हैं। श्री दीक्षित ने बताया कि कार्यक्रम में विश्व के कई देश के लोग सहभागिता कर रहे हैं साथ ही देश के 20 राज्य के लोग भी इस कार्यक्रम में हिस्सा बनने के लिये अपना पंजीकरण करा चुके हैं। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम से जुडने के इच्छुक 5 जुलाई तक अपने विचार प्रस्तुत करने के लिये निशुल्क पंजीकरण करवा सकते हैं, जबकि विचारों को सुनने की पंजीकरण तिथि 8 जुलाई है । श्री दीक्षित ने कहा कि विश्वविद्यालय और आमजन के बीच की दूरियो को कम करते हुए विचारों के आदान प्रदान का यह एक अभिनव प्रयास है। इस मौके पर डा. प्रदीप द्विवेदी, डा. संध्या चतुर्वेदी भी मौजूद रहीं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:International event will be held from the land of Etawah