DA Image
17 जनवरी, 2021|6:16|IST

अगली स्टोरी

खंन्दी फटने से सैकड़ों बीघा फसल जलमग्न

खंन्दी फटने से सैकड़ों बीघा फसल जलमग्न

बसरेहर। हिन्दुस्तान संवाद

क्षेत्र के गांव रजपुरा तोताराम में बम्बा में ओवरफ्लो हो जाने और फिर खंदी फट जाने से यहां के किसानों की सैकड़ो बीघा खेतों में पानी भर गया और उसमें बोई गई फसल जलमग्न हो गई। बम्बा फटने के बाद खेतों में पहुंचे किसान पूरी रात इस खंदी को पाटने में लगे रहे। इसके बावजूद फसल का काफी नुकसान हो गया है। बम्बा के इस पानी से सैकड़ो बीघा में खड़ी गेहूं, सरसों व आलू की फसल डूब गई। इससे किसान परेशान हैं। किसानों का कहना है पहले भी ऐसा हो चुका है लेकिन विभाग ने ध्यान नहीं दिया और एक बार फिर किसानों की सैकड़ा बीघा में खड़ी फसल बर्वाद हो गई।

बहादुरपुर लोहिया कला से निकली माइनर में गुरुवार की रात को बम्बा में पानी आ जाने से बम्बा ओवरफ्लो हो गया और दो जगह फट गया। इसके चलते आसपास सैकड़ो बीघा खेतों में पानी भर गया और फसल पानी में डूब गई। इसे लेकर किसानों ने अधिकारियों को सूचना भी दी लेकिन शुक्रवार की शाम तक कोई भी मौके पर नहीं पहुंचा। इसके चलते किसान दुर्गेश कुमार 8 बीघा, विमला देवी 40 बीघा, सियाराम 6 बीघा, विद्याराम 6 बीघा, महेश चंद्र 9 बीघा, महेंद्र यादव की 10 बीघा फसल पानी में डूब गई। राजेंद्र यादव 8 बीघा, विनोद कुमार 10 बीधा, जवाहरलाल 3 बीघा, डा. जयसिंह 5 बीघा सहित कइ्र किसानों की तैयार हो रही फसल डूब गई।

इन किसानों का आरोप है लोहिया माइनर बंबा जो बिलंदा रजवा रजपुरा के पास गिरा है उसको कुछ दबंगों ने आगे जाकर बंद कर दिया। इसी कारण बहादुरपुर रजवहा का पानी वापस होने लगा और खन्दी फट गई। किसानों ने नहर विभाग के जेई को सूचना दी लेकिन कोई मौके पर नहीं पहुंचा। सभी किसान फसल बचाने के लिए सर्दी में रात भर जुटे रहे और बम्बा की पटरी बांधते रहे। इन किसानों का यह भी कहना है कि पिछली साल भी यही हाल हुआ था और अभी तक शासन और प्रशासन की ओर से कोई मदद नहीं मिली। रजपुरा गांव के किसान फसल को लेकर चिंतित हैं । उन्होंने जिला प्रशासन से शीघ्र ही बम्बा में खदी बंद कराए जाने व पानी को कम करने की मांग की है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Hundreds of bigha crops submerged due to blast