ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशरोजगार सेवक कैसे करें गुजरा, 7 माह से नहीं मिला मानदेय

रोजगार सेवक कैसे करें गुजरा, 7 माह से नहीं मिला मानदेय

इटावा संवाददाता सरकार की महत्वाकांक्षी योजना मनरेगा के तहत काम करने वाले रोजगार...

रोजगार सेवक कैसे करें गुजरा, 7 माह से नहीं मिला मानदेय
हिन्दुस्तान टीम,इटावा औरैयाThu, 30 Nov 2023 11:15 PM
ऐप पर पढ़ें

इटावा संवाददाता

सरकार की महत्वाकांक्षी योजना मनरेगा के तहत काम करने वाले रोजगार सेवकों को पिछले 7 महीने से मानदेय न मिलने के कारण वह खासे परेशान है और उनके सामने परिवार के पालन पोषण का संकट उत्पन्न हो गया है। दीपावली भी मानदेय न मिलने के कारण फीकी रही।

इन रोजगार सेवकों का कहना है कि उन्हें बेहद अल्प मानदेय मिलता है और वह भी सात सात महीने से ना मिलना एक बहुत बड़ी समस्या है। लम्बे समय से मानदेय ना मिलने के कारण उन्हें अपने परिवार का पालन पोषण करने में काफी कठिनाई हो रही है। जिले में मनरेगा के तहत 370 रोजगार सेवक काम कर रहे हैं। जिले की 471 ग्राम पंचायत में मनरेगा की व्यवस्था में काम करने की जिम्मेदारी इन्हीं 370 रोजगार सेवकों की है। इन्हें प्रतिमाह लगभग 8000 मानदेय दिया जाता है लेकिन समय पर मानदेय न मिलने और कई कई महीना मानदेय ना मिलने के कारण वह खासे परेशान है और उनके सामने समस्या है कि वह कैसे अपने परिवार का पालन पोषण करें। मनरेगा में मजदूरों को उनके ही गांव मेें रोजगार दिए जाने की व्यवस्था की गई है। इसी के तहत रोजगार सेवकों की नियुक्ति भी की गई है। इन रोजगार सेवको ंको प्रतिमाह लगभग आठ हजार रुपया मानदेय के रुप मे मिलता है, यदि प्रतिमाह इसका भुगतान होता रहे तब तो ठीक है लेकिन कई कई महीनों में भुगतान ना होने से इनके सामने आर्थिक संकट उत्पन्न हो गया है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें