DA Image
Thursday, December 2, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशपुरानी पेंशन के लिए उमड़ा शिक्षकों-कर्मचारियों का सैलाब

पुरानी पेंशन के लिए उमड़ा शिक्षकों-कर्मचारियों का सैलाब

हिन्दुस्तान टीम,इटावा औरैयाNewswrap
Thu, 28 Oct 2021 07:05 PM
पुरानी पेंशन के लिए उमड़ा शिक्षकों-कर्मचारियों का सैलाब

इटावा। संवाददाता

पुरानी पेंशन बहाली तथा अन्य मांगों को लेकर शिक्षकों व कर्मचारियों ने हुंकार भरी। इसके लिए विकास भवन में आयोजित धरना में शिक्षकों व कर्मचारियों का सैलाव उमड़ पड़ा। पूरे विकास वसंत भवन परिसर में आंदोलनरत कर्मचारी शिक्षक ही दिखाई दे रहे थे। यह धरना सुबह 11 बजे से शुरू होकर दोपहर बाद 3:बजे तक चलता रहा। धरना के बाद मांगों से संबंधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा गया। इस दौरान कर्मचारियों ने अपनी मांगों के समर्थन में जमकर नारेबाजी भी की। धरना प्रदर्शन के दौरान राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रदेश अध्यक्ष इंजीनियर हरि किशोर तिवारी विशेष रूप से मौजूद रहे।

धरने की अध्यक्षता कर रहे शिक्षक कर्मचारी अधिकारी पेंशनर अधिकार मंच के जिलाध्यक्ष विनोद यादव ने कहा कि ये सरकार हठधर्मिता पर है तथा शिक्षकों एवं कर्मचारियों के हितों के प्रति संवेदनशून्य है। जनप्रतिनिधि स्वयं तो पुरानी पेंशन ले रहे हैं और जो शिक्षक और कर्मचारी अपना पूरा जीवन सरकार की सेवा में लगा रहा है उसे पुरानी पेंशन से वंचित कर उनके बुढ़ापे की लाठी को छीन लिया। शिक्षकों से ऑनलाइन कार्य लिया जा रहा है , ऑनलाइन कार्य के नाम पर शिक्षकों का शोषण बंद किया जाए। उन्होंने कहा कि शिक्षा मित्र, अनुदेशक विशेष शिक्षक, रसोईया, आंगनबाड़ी, कार्यकत्री एवं आउट सोर्सिंग के कर्मचारियों को स्थाई किया जाए। उन्होनें कहा कि वैसे हमें पूरी उम्मीद है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हमारी माँगों को स्वीकार कर पुरानी पेंशन बहाली की घोषणा करेंगे। यदि हमारी मांगे ना मानी गयीं तो 30 नवम्बर को लखनऊ कूच करेंगे और बड़ा निर्णय लेंगे।

मंच के जिला संयोजक राजेश मिश्रा ने कहा कि सरकार द्वारा पुरानी पेंशन बहाली सहित अन्य मांगों के लिए समितियां गठित की गईं परन्तु समितियों द्वारा कोई भी कार्य नहीं किया गया । परिणाम शून्य रहा है। पुरानी पेंशन बहाली,कर्मचारियों के मंहगाई भत्ते के एरियर का भुगतान , काटे गए भत्तों की बहाली आदि सभी माँगों पर सरकार जब तक निर्णय नहीं लेती है तब तक आंदोलन जारी रहेगा।

मंच के जिला महासचिव अरविंद शर्मा ने कहा कि कलेक्ट्रेट को विशिष्ट प्रतिष्ठा प्रदान करते हुए ग्रेड वेतन के उच्चीकरण का शासनादेश विभाग अध्यक्ष की संस्तुति के बाद भी जारी नहीं किया गया।

मंच के वरिष्ठ उपाध्यक्ष कृपा शंकर यादव ने कहा कि हमारी मांगे जायज़ हैं और सरकार को इन्हें स्वीकार कर जल्द से जल्द शासनादेश जारी करना चाहिए। मंच के सह संयोजक राजीव यादव ने कहा कि आंगनवाड़ी, रसोईयों, आशाओं एवं आउट सोर्सिंग कर्मचारियों को स्थायी किया जाए वरिष्ठ उपाध्यक्ष कवि कमलेश शर्मा ने कहा कि महंगाई भत्ते के एरियर का भुगतान , सरकार द्वारा काटे गए भत्तों की बहाली एवं वित्तविहीन शिक्षकों के मानदेय की बहाली की जाए। लेखपाल संघ के अध्यक्ष गरुप्रसाद चौधरी ने कहा कि की वर्तमान सरकार कर्मचारी विरोधी सरकार है। संचालन अरविंद धनगर ने किया।

इन नेताओं ने किया संबोधित

इटावा। धरने को दिलीप मिश्रा, ओमकार यादव, ब्रजेश यादव,उमा शंकर गुप्ता, प्रदीप सक्सेना, पवन श्रीवास्तव, शारदेन्दु शरद,उपेन्द्र वर्मा,पूरन सिंह, राजदा खातून, अनिल यादव, उर्वशी दीक्षित, प्रशांत पोरवाल, आफताब हुसैन, राकेश सक्सेना, प्रदीप यादव, डॉ धर्मेंद्र यादव, वीरेन्द्र कमल, अवनीश मिश्रा,केपी शाक्य, मंजू भदौरिया, रामविलास यादव, वीरेन्द्र बाल्मीकि, जौली शाक्य, शिवमंगल सिंह, प्रद्युम्न यादव, रामाश्रय यादव, राजेन्द्र सिंह, रश्मि पाल, प्रीतम भारद्वाज, पवन यादव, विपिन मिश्रा,राकेश यादव, विकास यादव, अशोक दुबे, रिजवान अहमद, जितेन्द्र यादव, हरिओम कश्यप ने संबोधित किया।

यह नेता रहे मौजूद

इटावा। धरने में मुख्य रूप से उपेंद्र त्रिपाठी, मुकेश यादव, विनोद यादव, शिवशंकर यादव, गजेन्द्र सिंह, शिवप्रताप सिंह, नंदकिशोर शाक्य,रामेंद्र कुमार, ममता वर्मा, शिवा गुप्ता, राधा यादव, शमामा अंजुम, आरती कठेरिया, शशिप्रभा, ज्योत्स्ना, विनोद यादव, दिनेश चन्द्र मिश्रा, विवेक वर्मा, अंजू वर्मा, राजेंद्र यादव, शिव वीर सिंह, संदीप कठेरिया, सुशील कुमार, सत्यदेव आजाद, कौशलेन्द्र यादव, इंसाफ अली, राम सजीवन, योगेंद्र यादव, मनोज कठेरिया, हरिमोहन राजपूत, अनुपम कौशल, शरद प्रभात, अवधेश यादव, दीपक कनौजिया, मानवेन्द्र गोयल, भावेश कुमार, उमेश कुमार, मनजीत कठेरिया,आलोक पाराशर, मुनेश यादव, रजनीश राठौर, यदुनाथ सिंह, अलक्षेन्द्र कुमार, ईश्वरनारायन, हेमन्त कुमार, नितिन यादव, शिववीर सिंह, सौरभ कुशवाहा, अवधेश यादव, नितिन वर्मा, आलोक पाल, प्रवीण यादव, चंद्रजीत सिंह, मनोज श्रीवास्तव, जितेन्द्र कश्यप, सुदीप कमल, बनीता रानी, अंकिता, गौतम राम मौजूद रहे ।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें