ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशबेसिक शिक्षा विभाग के स्कूलों में पर्यावरण जागरुकता गोष्ठी

बेसिक शिक्षा विभाग के स्कूलों में पर्यावरण जागरुकता गोष्ठी

इटावा। संवाददाता विकास खंड बढ़पुरा के ग्राम सारंगपुरा ,धिमरई तथा हरदासपुर के विद्यालयों में...

बेसिक शिक्षा विभाग के स्कूलों में पर्यावरण जागरुकता गोष्ठी
हिन्दुस्तान टीम,इटावा औरैयाTue, 14 May 2024 11:50 PM
ऐप पर पढ़ें

इटावा। संवाददाता

विकास खंड बढ़पुरा के ग्राम सारंगपुरा ,धिमरई तथा हरदासपुर के विद्यालयों में पर्यावरण जागरूकता गोष्ठी की गई। इसमे विद्यार्थियों को नदियों के जल को स्वच्छ रखने तथा जलीय जीवों विशेषकर कछुआ संरक्षण और उसकी उपयोगिता की जानकारी दी गई।

कार्यक्रम में पर्यावरण विद वन्य जीवन विशेषज्ञ डा. राजीव चौहान ने मनुष्य के जीवन में नदियों के महत्व और कछुओं की हमारे जीवन में उपयोगिता के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने यमुना के किनारे पाए जाने वाले कछुओं की प्रजातियों के विषय में विद्यार्थियों को चित्रों के माध्यम से बताया । कहा कि कछुए हमारे पारिस्थितिकी तंत्र को स्वस्थ रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। ये ऐसे सफाईकर्मी हैं जो स्वच्छ जलीय पारिस्थितिकी तंत्र को बनाए रखने में मदद करते हैं। कार्यक्रम में स्टेट रिसोर्स पर्सन राम जनम सिंह ने कहा कि कछुओं के बिना, संपूर्ण खाद्य श्रृंखला बाधित हो जाएगी, जिससे संपूर्ण पारिस्थितिक तंत्र ध्वस्त हो जाएगा। उन्होंने कहा कि आशा है कि विद्यालयों में गठित हरित क्लब पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागृति फैलाने का कार्य करेंगे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।