DA Image
22 अक्तूबर, 2020|6:15|IST

अगली स्टोरी

तंगी से परेशान दिव्यांग किसान ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

तंगी से परेशान दिव्यांग किसान ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

थाना बढ़पुरा क्षेत्र के भटपुरा गांव में बुधवार देर शाम 45 वर्षीय दिव्यांग किसान ने खेत पर बनी मचान पर गमदे से फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। किसान अपनी फसल की रखवाली के लिए खेत पर गया था। रात तक घर न लौटने पर पुत्र जब खेत पर पहुंचा तो घटना की जानकारी हो सकी। जिसके बाद परिजन शव को घर पर ले आए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसका पोस्टमार्टम के लिए भेजा। बताया जा रहा है कि किसान आर्थिक तंगी व दिव्यांगता के कारण काफी परेशान था।

भटपुरा गांव के रहने वाले 45 वर्षीय दिव्यांग किसान लल्ला सिंह बुधवार की शाम अपनी पत्नी रामबेटी के साथ एक बीघा खेत में किए बाजारा की फसल की रखवाली के लिए गया था। देर शाम पांच बजे पत्नी रामबेटी खेत से घर लौट आयी लेकिन लल्ला सिंह वहीं पर रुक गए। पत्नी रामबेटी ने बताया कि जब देर तक पति घर वापस नहीं आए तो उन्हें बुलाने बेटे सुमित को खेत पर भेजा, तो उसने पिता को फांसी पर लटका देखा तो रोते हुए घर आया और जानकारी दी। तो वह ग्रामीणों समेत खेत पर पहुंच गए। परिजनों ने अंगोछे के फंदे से लटक रहे लल्ला सिंह के शव को पेड़ से उतारा और घर ले गए। शव घर में पहुंचते ही कोहराम मच गया। सूचना मिलने पर पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

मृतक के छोटे भाई धर्मवीर ने बताया कि वह लोग बहुत गरीब है और हमारे बड़े भाई लल्ला के छह बच्चे हैं जिसमे तीन बेटे और तीन बेटियाँ जिसमे बड़ा वेटा नीतेश 12 वर्ष, सुमित 5 वर्ष, और अनमोल 2 वर्ष का है और बड़ी बेटी रबीना 10 वर्ष , जानकी 8 वर्ष और रीना 7 वर्ष की है। पिता की मौत से बच्चों के सिर से पिता साया उठ गया है। उनका परिवार एक कच्चे टीले को खोदकर गुफानुमा घर बनाकर उसी मे गुजर वसर कर रहा है। गांव के लोगों ने बताया लल्ला सिंह ने बेहद गरीबी के चलते आत्महत्या कर ली है। ग्रामीणें ने प्रशासन से मृतक परिवार को सरकारी मदद की गुहार लगाई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Disabled farmer distraught by suicide due to hanging