DA Image
28 फरवरी, 2021|12:17|IST

अगली स्टोरी

बालिकाओं के हाथों में कमान, बनाया गया थानेदार

बालिकाओं के हाथों में कमान, बनाया गया थानेदार

इटावा। हिन्दुस्तान संवाद

राष्ट्रीय बालिका दिवस के मौके पर मेधावी छात्राओं को प्रेरित करने के साथ ही उनके अंदर पुलिस व प्रशासनिक व्यवस्था की स्किल डेवलप करने के उद्देश्य से जिले के सभी थानों में एक दिन की महिला इंचार्ज के रूप में छात्राओं को नियुक्त किया गया। अपनी कार्यशैली के बल पर इन छात्राओं ने न सिर्फ प्रशासनिक अधिकारियों का ध्यान आकर्षित किया बल्कि आम जनता की शिकायतों के निस्तारण में भी पूरी तत्परता से निर्भीक होकर निर्णय लिए। पुलिस द्वारा किए गए इस कार्य को लेकर छात्राओं में भी उत्साह नजर आया। जिले के सभी थानों में एक दिन की थाना इंचार्ज बनी छात्राओं ने इसके लिए पुलिस विभाग के आला अधिकारियों को धन्यवाद दिया।

नगर क्षेत्र के सिविल लाइन थाने में नारायण कॉलेज की कक्षा 11 की छात्रा वंशिका यादव ने थाना प्रभारी का चार्ट संभाला। वंशिका ने थाने में साफ-सफाई को लेकर बेहतर व्यवस्थाओं के साथ गुटखा पान मसाला को पूरी तरीके से थाने में प्रतिबंध करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि थाने में आने वाले सभी फरियादी बिना किसी तंबाकू प्रयोग के ही प्रवेश कर सकेंगे। इसके अलावा थाने में तंबाकू खाने वाले कर्मचारियों को चिन्हित करके उन पर जुर्माना लगाने के साथ गंदगी की सफाई की सजा भी उन्हें मिलेगी। वंशिका एक दिन का थाना अध्यक्ष बनने से काफी खुश थी। उनका कहना था कि वह आगे चलकर पुलिस सेवा में जाना चाहती हैं जिससे आम जनता की शिकायतों को बेहतर तरीके से सुलझा सकें।

एक दिन की थानेदार के रुप में एसडी फील्ड की रहने वाली मेडिकल स्टूडेंट सुरम्या दीक्षित ने कोतवाली का चार्ज संभाला। उन्होंने थाने की बैरिक, मालखाने के साथ साफ सफाई का निरीक्षण किया। और स्टॉफ के साथ बैठक कर अभिलेखों को दुरुस्त रखने की बात कही। उन्होंने कहा कि पीड़ित थाने में आए तो उसको पुलिस से भय न लगे बल्कि पुलिस को अपना मित्र समझकर अपनी समस्याएं बताए और उसको वरीयता से निपटाएं। इसके साथ ही उन्होंने में पैदल गश्त कर अतिक्रमण न करने की हिदायत दी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Command in the hands of girls Sho made