DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कृष्ण जन्माष्टमी के साथ नंद महोत्सव में बृजमय हुआ माहौल

कृष्ण जन्माष्टमी के साथ नंद महोत्सव में बृजमय हुआ माहौल

1 / 4बाल-गोपाल भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव की खुशियां देर रात तक मनाई गई। पुलिस लाइन के अलावा इस्कॉन द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में जन्माष्टमी महोत्सव की धूम रही। श्रद्धालुओं ने ठाकुर जी का पंचामृत से...

कृष्ण जन्माष्टमी के साथ नंद महोत्सव में बृजमय हुआ माहौल

2 / 4बाल-गोपाल भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव की खुशियां देर रात तक मनाई गई। पुलिस लाइन के अलावा इस्कॉन द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में जन्माष्टमी महोत्सव की धूम रही। श्रद्धालुओं ने ठाकुर जी का पंचामृत से...

कृष्ण जन्माष्टमी के साथ नंद महोत्सव में बृजमय हुआ माहौल

3 / 4बाल-गोपाल भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव की खुशियां देर रात तक मनाई गई। पुलिस लाइन के अलावा इस्कॉन द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में जन्माष्टमी महोत्सव की धूम रही। श्रद्धालुओं ने ठाकुर जी का पंचामृत से...

कृष्ण जन्माष्टमी के साथ नंद महोत्सव में बृजमय हुआ माहौल

4 / 4बाल-गोपाल भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव की खुशियां देर रात तक मनाई गई। पुलिस लाइन के अलावा इस्कॉन द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में जन्माष्टमी महोत्सव की धूम रही। श्रद्धालुओं ने ठाकुर जी का पंचामृत से...

PreviousNext

बाल-गोपाल भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव की खुशियां देर रात तक मनाई गई। पुलिस लाइन के अलावा इस्कॉन द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में जन्माष्टमी महोत्सव की धूम रही। श्रद्धालुओं ने ठाकुर जी का पंचामृत से अभिषेक कर जहां सुख-समृद्धि की कामना की। वहीं धार्मिक कार्यक्रमों के साथ इस्कॉन की ओर से आयोजित कार्यक्रम में देर रात श्रद्धालु जुटे रहे। वहीं श्री राधाबल्लभ मंदिर छैराहा पर नंदोत्सव की धूम रही। कचौरा स्थित सांई मंदिर पर भी भगवान कृष्ण का जन्मोत्सव मनाया गया। मंदिर में रात 12 बजे महाआरती के साथ बालरुप भगवान कृष्ण के रुप में बच्चों ने केक काटकर भगवान का जन्मदिन मनाया। घरों में भी भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाकर बाल गोपाल की झांकी का पूजन अर्चन किया गया।

योगीराज भगवान कृष्ण का जन्म द्वापर युग में हुआ था। आज भी बाल-गोपाल रुप में भगवान का जन्म हिन्दू सनातन धर्म पूरी श्रद्धाभाव के साथ मनाने की परम्परा है। कृष्ण के बालरुप में जो छवि प्रदर्शित होती है। वह किसी बालक के घर में आने की खुशियों से कम नहीं है। ऐसे में घरों के साथ साथ विभिन्न संगठनों के द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों के जरिए से कृष्ण जन्मोत्सव की खुशियां मनाई गई। सोमवा की देर शाम पुलिस लाइन सभागार में भव्य जन्माष्टमी महोत्सव का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ सदर विधायक सरिता भदौरिया, भरथना विधायक सावित्री कठेरिया समेत विभिन्न प्रशासनिक अधिकारियों ने दीप प्रज्जवलन के साथ किया। पुलिस मार्डन स्कूल के छात्र-छात्राओं ने गणेश वंदना के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ किया। बच्चों ने भगवान कृष्ण के बालरुप की लीलाओं का मंचन करते हुए अपनी आस्था प्रकट की। कृष्ण-सुदामा मित्रता पर आधारित अरे द्वार पालों कन्हैया से कह दो कि दर पर सुदामा गरीब आ गया है कि प्रस्तुति अत्यन्त मन भावन रही। नन्हे मुन्ने छात्र-छात्राओं ने कृष्ण व राधा का रुप धरकर कान्हा बरसाने में आ जाइयो बुलाएगी राधा प्यारी, मधुवन में जो कन्हैया किसी गोपी से मिले जैसे गीतों के जरिए अपनी प्रस्तुतित दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: An enchanting atmosphere in the Nand festival with Krishna Janmashtami