DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दरवेश हत्याकांड में सीबीआई करें जांच: शिवपाल यादव

दरवेश हत्याकांड में सीबीआई करें जांच: शिवपाल यादव

यूपी बार काउंसिल की अध्यक्ष रही दरवेश यादव के घर प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव पहुंचे। उन्होंने कहा कि इस हत्याकांड की सीबीआई जांच हो। सरकार पीडि़त परिवार को मुआवजा दे। इस तरह की हत्याओं से प्रदेशभर में भय का माहौल है। नौकरशाह मुख्यमंत्री के नियंत्रण में नहीं है। इसी कारण प्रदेश की कानून व्यवस्था नहीं सुधर रही।

रविवार को दोपहर में शिवपुरी स्थित दरवेश के आवास पर पहुंचकर प्रसपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने शोक संवेदना व्यक्त की। उन्होंने परिजनों को ढांढ़स बंधाते हुए कहा कि वह हर तरह से उनके साथ हैं। उन्होंने कहा कि दिनदहाड़े यूपी बार काउंसिल अध्यक्ष की हत्या की घटना अत्यंत निदंनीय है। प्रदेश सरकार को पीड़ित के परिवारीजनों को तत्काल आर्थिक सहायता प्रदान करनी चाहिए। उसके अलावा मामले की जांच सीबीआई से कराई जाए। उन्होंने परिवारीजनों से पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली। प्रसपा राष्ट्रीय अध्यक्ष को दरवेश यादव के भाई पंजाबी सिंह ने सीबीआई जांच कराए जाने को लेकर ज्ञापन भी सौंपा है। प्रसपा अध्यक्ष के पहुंचने के दौरान शहर के अन्य लोग भी वहां पर मौजूद रहे। मीडिया से बातचीत में प्रसपा राष्ट्रीय अध्यक्ष पार्टी के किसी दल में विलय के सवाल को टाल गए।

----बॉक्स

पार्टी को लेकर किसी प्रकार का समझौता नहीं : शिवपाल

एटा। यूपी बार काउंसिल अध्यक्ष दरवेश यादव के परिजनों को सांत्वना देने के बाद प्रसता राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह प्रदेश सचिव राजू आर्या के घर पहुंचे। जहां पर उन्होंने पार्टी पदाधिकारियों की बैठक ली। पदाधिकारियों के स्थानीय मुद्दों पर संज्ञान लेने के निर्देश दिए।

रविवार को कार्यकर्ताओं से वार्ता करते समय शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि पार्टी को लेकर तरह-तरह की जो चर्चाएं चल रही हैं। उन पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है। आज की स्थिति में हम किसी भी दल में विलय नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि यदि गठबंधन की बात आई तो शर्तों के मुताबिक हम किसी से भी गठबंधन कर लेंगे। उन्होंने सभी पदाधिकारियों का परिचय भी लिया। शिवपाल सिंह ने कहा कि आने वाला विधानसभा चुनाव हम दमदारी से लड़ेंगे। उत्तर प्रदेश का विधानसभा चुनाव बहुत देकर जाएगा। इस मौके पर जिलाध्यक्ष रामकिशोर यादव, सत्यपाल यादव, हरेन्द्र यादव, नीरज यादव, प्रीतोष यादव, जितेन्द्र यादव, बबलू यादव, सत्येन्द्र यादव, अजीत यादव, राजन सिंह लोधी, भरत सिंह लोधी आदि मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The situation of law and order in Uttar Pradesh is bad