DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किशोरी को बस स्टैंड से उठा घायल कर खेतों में फेंका, चार पर मुकदमा

रोडवेज बस स्टैंड से उठाकर किशोरी को शराब पिलाने के बाद खेतों में फेंक दिया। वह रातभर खेतों में पड़ी रही। शनिवार सुबह किशोरी को घायल देख ग्रामीणों ने जिला अस्पताल में भर्ती कराया। उसका चेहरा पूरी तरह से विकृत था। ऐसा लग रहा था कि किसी ने उस पर कोई ज्वलनशील पदार्थ डाल दिया हो।

अवागढ़ की रहने वाली दलित किशोरी कक्षा नौ की छात्रा है। एक सप्ताह पहले उसकी मां बाजार गई थी। पिता दिल्ली में नौकरी करते हैं। वह घर में अकेली थी। आरोप है कि कस्बे की ही महिला मीना और उसका पति विपिन, मोनू किशोरी को बहला फुसलाकर ले गए। अवागढ़ से निकलने के बाद यह लोग उसे दिल्ली ले गए। दिल्ली में यह लोग उसे बेचना चाहते थे। इसकी भनक लगते ही वह वहां से निकल भागी और आनंद विहार रोडवेज बस स्टैंड पर पहुंच गई। वहां पर उसने अपनी बीती एक वृद्ध को बताई। उसने उसे एटा पहुंचने के लिए किराया दे दिया। वह जैसे ही रोडवेज बस स्टैंड एटा पहुंची तो उसे अवागढ़ के ही आलोक और मोनू फिर से मिल गए। जब उसने साथ जाने से मना किया तो उसे गोली मारने की धमकी दी। दोनों बाइक पर बैठा ले गए। शहर निकलने के बाद एक गांव में ले जाकर उसे शराब पिलाई। उसके चेहरे पर कोई तरल पदार्थ फेंक कर विकृत कर दिया। परिवार का आरोप है कि इसी स्थान पर बेटी को हवस का भी शिकार बनाया। घटना के अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गए।

26 जनवरी की सुबह थाना मिरहची क्षेत्र के गांव सरनऊ के लोग खेतों पर गए तो किशोरी को घायल अवस्था में पड़ा देखा। वह काफी परेशान थी। वह बदहवास थी। इस मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। किशोरी के बताए गए फोन पर उसके परिजनों को सूचना दी। हालत गंभीर देख उसे अलीगढ़ रेफर कर दिया गया। वहीं मामले की रिपोर्ट थाना अवागढ़ में विपिन, मीना, मोनू, आलोक के खिलाफ दर्ज कराई है। इसमें बहला फुसलाकर भगा ले जाने के अलावा एससीएसटी की भी धारा लगाई गई है।

किशोरी के परिजनों ने जो तहरीर दी है उसी के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। डाक्टरी परीक्षण में किसी प्रकार का कोई ज्वलनशील पदार्थ नहीं आया है। चेहरे पर चोट के निशान हैं। दुष्कर्म जैसा मामला भी नहीं बताया गया है। इस मामले की जांच कराई जा रही है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए संभावित स्थानों पर दबिशें दी गई हैं।

आशीष तिवारी, एसएसपी एटा

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Raised from the roadways bus stand and hurled the teenager