Thursday, January 20, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश एटाएससी-एसटी आयोग में सबसे अधिक शिकायत पुलिस-राजस्व विभाग की

एससी-एसटी आयोग में सबसे अधिक शिकायत पुलिस-राजस्व विभाग की

हिन्दुस्तान टीम,एटाNewswrap
Tue, 30 Nov 2021 10:30 PM
एससी-एसटी आयोग में सबसे अधिक शिकायत पुलिस-राजस्व विभाग की

एससी, एसटी आयोग के अध्यक्ष डा. रामबाबू हरित ने मंगलवार को सर्किट हाउस में प्रेस वर्ता कर बताया कि भापजा सरकार में सर्वाधिक एससी, एसटी वादों का निस्तारण एवं फर्जी मुकदमा लिखवाने के वालों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। इसके साथ ही उन्होंने प्रदेश भ्रमण करके लोगों को सरकार की उपब्धियों का प्रचार प्रसार करने की बात कही।

डा. हरित ने बताया कि वह अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लोगों की ओर से प्राप्त शिकायतों की सुनवाई करने के साथ उसका सम्यक विधिपूर्ण समाधान करा रहे हैं। आयोग के समक्ष अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लोगों के जो प्रकरण आते हैं। वह मुख्यत: पुलिस एवं राजस्व विभाग से संबंधित होते हैं। इसके अतिरिक्त आयोग के समक्ष विभागीय एवं उत्पीड़न के मामलों में दी जाने वाली आर्थिक सहायता से संबंधित मामले भी आते हैं। आयोग कुछ मामलों में जैसे समाचार पत्रों, इलेक्ट्रानिक मीडिया में आयी खबरों का स्वत: संज्ञान भी लेता है। उन्होंने बताया कि उन्होंने इस पद का बीते जून माह में ही कार्यभार ग्रहण किया है। उस समय आयोग में सुनवाई के लिए 342 मामले लम्बित थे। जिनमें पुलिस विभाग के 280 राजस्व विभाग के 40 व अन्य विभाग से संबंधित 22 मामले थे। जिसमें 215 मामले निस्तारित किये गये हैं। उनके पांच माह के कार्यकाल में अब तक आयोग में कुल 3107 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए हैं। जिनमें से 1981 सामलों में संबंधित विभागों को अपने स्तर से निस्तारण करने के लिए भेजे गए हैं। जिसमें 1126 मामलों में संबंधित विभागों से आख्या मंगा कर आयोग द्वारा निस्तारण किया गया है।

epaper
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें