DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सामवेद का उर्दू और हिन्दी में अनुवाद कर रहे फिल्म निर्माता इकबाल दुर्रानी

सामवेद का उर्दू और हिन्दी में अनुवाद कर रहे  फिल्म निर्माता इकबाल दुर्रानी

कई सुपरहिट फिल्म देने वाले निर्माता, निर्देशक एवं लेखक इकबाल दुर्रानी का ग्लेमर की दुनिया से मोह भंग होता जा रहा है। अब वह अध्यात्म में डूबते जा रहे हैं। सामवेद का अध्ययन करने के बाद वह इसका उर्दू और हिंदी में अनुवाद कर रहे हैं। सामवेद में कुल एक हजार 875 श्लोक हैं, इसमें एक हजार से अधिक का उर्दू और हिंदी में अनुवाद किया जा चुका है। सभी श्लोक का अनुवाद होने के बाद इकबाल दुर्रानी सामवेद की हिंदी-उर्दू में पुस्तक प्रकाशित कराने की तैयारी कर रहे हैं।

गुरुवार को यहां पहुंचे इकबाल दुर्रानी शुक्रवार को कासगंज रोड स्थित आर्ष गुरुकुल पहुंचे। यहां पहुंचकर वह तीन साल पुरानी यादों में खो गये। आर्ष गुरुकुल के अधिष्ठाता देवराज शास्त्री, उनके पुत्र मेधाव्रत शास्त्री, आचार्य डा. बागीश शर्मा से बातचीत करते हुए वेदजीवन दर्शन पर चर्चा की।

26 मार्च 2015 को इकबाल दुर्रानी यहां पहुंचे थे, उस समय आर्ष गुरुकुल के अधिष्ठाता देवराज शास्त्री ने उनको सामवेद, ऋगवेद, अर्थवेद भेंट किये थे। इकबाल दुर्रानी ने कहा उनकी अटैची में हमेशा कुरान शरीफ साथ रहता था। उस दिन उनकी अटैची में कुरान शरीफ और वेद एक साथ थे। घर पहुंचने के बाद उन्होंने वेदों का अध्ययन किया। वेदों के अध्ययन के बाद उनकी दुनिया बदल गई। साथ ही सोच में बदलाव आ गया। वेदों के अध्ययन के बाद ईश्वर को जाना। तीन वेद पाने के बाद वह खुद को दुनिया का सबसे धनवान व्यक्ति मानते हैं। उन्होंने कहा जीवन में बिना कारण के कुछ नहीं होता।

दुर्रानी के दादा संस्कृत के अध्यापक थे

अपने परिजनों के बारे में बताते हुए कहा उर्दू पढ़ाने वाले को मौलवी कहा जाता है। इसी तरह उनके दादा संस्कृत के अध्यापक थे तो उनसे सभी पंडितजी कहा करते थे। उन्होंने वादा किया कि वेद का हिंदी एवं उर्दू में अनुवाद होने पर वह विमोचन समारोह भी देखने लायक होगा। इकबाल दुर्रानी यहां प्रदर्शनी में आयोजित ऑल इंडिया गॉट शो में शामिल होने पहुंचे। इस मौके पर राहुल गुप्ता, राकेश भदौरिया आदि लोग मौजूद थे।

एटा की प्रतिभा को फिल्म में मौका देने का वादा

एटा। शुक्रवार की शाम को प्रदर्शनी के पंडाल में आयोजित ऑल इंडिया गॉट टेलेंट एंड ग्रांड म्यूजिक नाइट में बच्चे अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। इसका उद्घाटन करने पहुंचे इकबाल दुर्रानी ने एटा के एक बच्चे को फिल्म में मौका देने का वादा किया है। इकबाल दुर्रानी ने फिल्म स्टार अजय देवगन, शाहरुख खान, अक्षय कुमार को चांस दिया। अजय देवगन को फूल और कांटे फिल्म में चांस दिया था। इकबाल दुर्रानी ने कहा नई प्रतिभा को तलाशकर उसे तराशना उनकी आदत है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Film producer Iqbal Durrani Samved translated into Urdu and Hindi