DA Image
20 जनवरी, 2020|5:25|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विश्व स्तर पर होगी घुंघरू-घंटी की पहचान

विश्व स्तर पर होगी घुंघरू-घंटी की पहचान

1 / 2नगर के एमजीएम इण्टर कॉलेज में दो दिवसीय उद्यम समागम एवं ओडीओपी प्रदर्शनी का शुक्रवार शुरू हुई। प्रदर्शनी में घुंघरू-घंटी व्यापारी, उद्यमियों, कारीगरों ने स्टॉल सजाए। दोपहर में पहुंचे विधायक संजीव...

विश्व स्तर पर होगी घुंघरू-घंटी की पहचान

2 / 2नगर के एमजीएम इण्टर कॉलेज में दो दिवसीय उद्यम समागम एवं ओडीओपी प्रदर्शनी का शुक्रवार शुरू हुई। प्रदर्शनी में घुंघरू-घंटी व्यापारी, उद्यमियों, कारीगरों ने स्टॉल सजाए। दोपहर में पहुंचे विधायक संजीव...

PreviousNext

नगर के एमजीएम इण्टर कॉलेज में दो दिवसीय उद्यम समागम एवं ओडीओपी प्रदर्शनी का शुक्रवार शुरू हुई। प्रदर्शनी में घुंघरू-घंटी व्यापारी, उद्यमियों, कारीगरों ने स्टॉल सजाए। दोपहर में पहुंचे विधायक संजीव दिवाकर, डीएम सुखलाल भारती ने स्टॉलों का भ्रमण कर व्यापारियों से जानकारी ली।

उद्यम समागम, ओडीओपी प्रदर्शनी में डीएम सुखलाल भारती ने कहा कि जलेसर में ओडीओपी प्रदर्शनी का आयोजन किया जा रहा है। सरकार का उद्देश्य है कि स्थानीय उत्पादों को अधिक से अधिक बढ़ावा देने के साथ ही विकसित करने हेतु बेहतर प्रयास किया जाए। उन्होंने कहा कि जलेसर में घुघरू घण्टी सहित अन्य उद्योग में लगे लोगों की कला को निखारा जाए। उससे कि जनपद एटा के जलेसर में घुघरू घण्टी उद्योग की पहचान विश्व स्तर पर कायम हो सके। उद्योगों को पुनर्जीवित करने के उद्देश्य से बैंकर्स के माध्यम से उद्यमियों की आर्थिक मदद की जाए। विधायक संजीव दिवाकर ने कहा कि घुंघरू-घंटी उद्योग से ही देशभर में जलेसर की पहचान है। नगर में सैकड़ों की तादात में व्यापारी, उद्यमी इस कार्य से जुड़े हुए हैं। हजारों परिवारों की रोजी-रोटी इस कार्य से जुड़ी हुई है। उसके बाद भी घुंघरू-घंटी उद्योग को बढ़ावा देने के लिए सार्थक पहल नहीं हुई। एक जनपद-एक उत्पाद योजना में घुंघरू-घंटी को शामिल कर प्रदेश सरकार ने अनोखी पहल की है। उसके बाद से घुंघरू-घंटी से जुडे व्यापारी, उद्यमियों को आगे बढ़ाने का कार्य किया जा रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Efforts will be made to identify the bell-bells globally