DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जिला अस्पताल में उमड़े मरीज, चिकित्सक रहे नदारद

जिला अस्पताल में उमड़े मरीज, चिकित्सक रहे नदारद

1 / 5प्राइवेट चिकित्सकों की हड़ताल से सोमवार को जिला चिकित्सालय में अन्य दिनों की अपेक्षा अधिक मरीज पहुंचे। ओपीडी में स्थायी चिकित्सक मरीजों को उपचार देने के लिए दोपहर तक लगे रहे। अन्य ओपीडी में संविदा...

जिला अस्पताल में उमड़े मरीज, चिकित्सक रहे नदारद

2 / 5प्राइवेट चिकित्सकों की हड़ताल से सोमवार को जिला चिकित्सालय में अन्य दिनों की अपेक्षा अधिक मरीज पहुंचे। ओपीडी में स्थायी चिकित्सक मरीजों को उपचार देने के लिए दोपहर तक लगे रहे। अन्य ओपीडी में संविदा...

जिला अस्पताल में उमड़े मरीज, चिकित्सक रहे नदारद

3 / 5प्राइवेट चिकित्सकों की हड़ताल से सोमवार को जिला चिकित्सालय में अन्य दिनों की अपेक्षा अधिक मरीज पहुंचे। ओपीडी में स्थायी चिकित्सक मरीजों को उपचार देने के लिए दोपहर तक लगे रहे। अन्य ओपीडी में संविदा...

जिला अस्पताल में उमड़े मरीज, चिकित्सक रहे नदारद

4 / 5प्राइवेट चिकित्सकों की हड़ताल से सोमवार को जिला चिकित्सालय में अन्य दिनों की अपेक्षा अधिक मरीज पहुंचे। ओपीडी में स्थायी चिकित्सक मरीजों को उपचार देने के लिए दोपहर तक लगे रहे। अन्य ओपीडी में संविदा...

जिला अस्पताल में उमड़े मरीज, चिकित्सक रहे नदारद

5 / 5प्राइवेट चिकित्सकों की हड़ताल से सोमवार को जिला चिकित्सालय में अन्य दिनों की अपेक्षा अधिक मरीज पहुंचे। ओपीडी में स्थायी चिकित्सक मरीजों को उपचार देने के लिए दोपहर तक लगे रहे। अन्य ओपीडी में संविदा...

PreviousNext

प्राइवेट चिकित्सकों की हड़ताल से सोमवार को जिला चिकित्सालय में अन्य दिनों की अपेक्षा अधिक मरीज पहुंचे। ओपीडी में स्थायी चिकित्सक मरीजों को उपचार देने के लिए दोपहर तक लगे रहे। अन्य ओपीडी में संविदा चिकित्सक, इंटर्नशिप चिकित्सक मौजूद रहे।

सोमवार को जिला अस्पताल में उपचार कराने के लिए 1500 मरीजों ने पर्चा बनवाए। उससे ओपीडी संख्या छह में मरीजों की लंबी लाइन लगी रही। यहां पर फिजीशियन डा. एस चंद्रा, चेस्ट फिजीशियन डा. एनएस तौमर ने मरीजों को देखा। ओपीडी पांच में संविदा आयुर्वेद चिकित्सक डा. नवीन गुप्ता मौजूद रहे। बालरोग विशेषज्ञ कक्ष में इंटर्नशिप कर रही चिकित्सक प्रीती गुप्ता मौजूद रही। इसी तरह ओपीडी संख्या एक में संविदा चिकित्सक डा. आरएस शुक्ला, दंत कक्ष में संविदा चिकित्सक डा. युनूस नवेद, होम्योपैथ कक्ष में संविदा चिकित्सक डा. आरपी यादव मौजूद रहे। एनसीडी क्लीनिक में डा. राजीव गुप्ता, फिजियो थैरेपिस्ट डा. दीप्ति गुप्ता और एक स्टाफ नर्स मौजूद रही। अस्थि रोग विशेषज्ञ डा. आरएल जिंदल के अवकाश पर रहने से ओपीडी बंद रही। डा. मधूप कौशल पैथोलॉजी और ब्लड बैंक के कार्यों में व्यस्त रहे।

प्राइवेट चिकित्सकों की हड़ताल को लेकर पूर्व में ही निर्देश दे दिए गए थे कि सभी ओपीडी में बैठकर चिकित्सा कार्य करेंगे। गंभीर मरीजों की उपचार में किसी भी प्रकार की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। यदि कहीं से शिकायत मिलती है तो संबंधित के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

-डा. अजय अग्रवाल, सीएमओ, एटा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Diseases of treatment in the district hospital doctors absent