DA Image
24 जनवरी, 2021|4:50|IST

अगली स्टोरी

अधिवक्ता उत्पीड़न मामले की करायी जाए सीबीआई जांच

अधिवक्ता उत्पीड़न मामले की करायी जाए सीबीआई जांच

भाजपा शासन में लगातार किसानों, महिलाओं एवं अधिवक्ताओं का उत्पीड़न हो रहा है। एटा के कटरा मोहल्ला में सरकारी अधिवक्ता राजेंद्र शर्मा स्पेशल एडीजीसी के साथ हुए पुलिसिया दुर्व्यवहार की सीबीआई जांच करायी जाए। ताकि दोषियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई हो सके। किसान कांग्रेस ने शुक्रवार को डिप्टी कलक्टर अलंकार अग्निहोत्री को सौंपे ज्ञापन में यह मांग की है।

किसान कांग्रेस ने दिए ज्ञापन में बताया है कि पुलिस ने अधिवक्ता, उसके पुत्र-पुत्री और भाई को अमानवीय व्यवहार करते हुए लाठी-डंडों, लात-घूंसों से मारपीट करते हुए ले गए। अधिवक्ता जो कि काला कोट पहने हुए थे। वह घटना की कचहरी में सूचना मिलने पर घर आए थे। उनसे एक अभियुक्त से भी बदत्तर व्यवहार किया गया। अधिवक्ता के परिवार पर संपत्ति विवाद के अतिरिक्त पुलिसकर्मियों ने झूठे मुकदमे भी लिखवाए हैं। किसान कांग्रेस ने दोषियों के विरुद्ध वैधानिक कार्रवाई करने और मामले की जांच सीबीआई जांच की मांग की है। ताकि पीड़ित परिवार को पुलिसिया उत्पीड़न से राहत मिल सके। ज्ञापन देने वाले जिलाध्यक्ष अमित कुमार गुप्ता, प्रदेश सचिव मोहम्मद इरफान एडवोकेट, ठाकुर अनिल सोलंकी, पूर्व जिलाध्यक्ष चोबसिंह धनगर, दिनेश शर्मा, नैना शर्मा, राहुल राना, चमन सेफी, वेद प्रकाश एडवोकेट, संतोष कुमार एडवोकेट, मनोज एडवोकेट, बृजेश कुमार, आशू यादव, राम अवतार सिंह यादव एडवोकेट, ध्यान पाल सिंह एडवोकेट, दिनेश शर्मा एडवोकेट, अरविंद कश्यप, राजेश शर्मा, सुरेश कुमार, डा. सुरेंद्र कुमार आदि शामिल रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:CBI investigation should be done in the case of advocate harassment