DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  एटा  ›  ग्राम विकास संग कोरोना से जंग में भी भागीदार बनें प्रधान
एटा

ग्राम विकास संग कोरोना से जंग में भी भागीदार बनें प्रधान

हिन्दुस्तान टीम,एटाPublished By: Newswrap
Sat, 29 May 2021 04:11 AM
एटा। शुक्रवार को जनपद की अधिकांश ग्राम पंचायतों के प्रधानों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ग्राम विकास संबंधी उद्धबोधन को मोबाइल, लैपटॉप एवं...
1 / 2एटा। शुक्रवार को जनपद की अधिकांश ग्राम पंचायतों के प्रधानों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ग्राम विकास संबंधी उद्धबोधन को मोबाइल, लैपटॉप एवं...
एटा। शुक्रवार को जनपद की अधिकांश ग्राम पंचायतों के प्रधानों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ग्राम विकास संबंधी उद्धबोधन को मोबाइल, लैपटॉप एवं...
2 / 2एटा। शुक्रवार को जनपद की अधिकांश ग्राम पंचायतों के प्रधानों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ग्राम विकास संबंधी उद्धबोधन को मोबाइल, लैपटॉप एवं...

एटा। शुक्रवार को जनपद की अधिकांश ग्राम पंचायतों के प्रधानों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ग्राम विकास संबंधी उद्धबोधन को मोबाइल, लैपटॉप एवं टैबलेट पर जूम एप के माध्यम से ऑनलाइन सुना। दोपहर तीन बजे मुख्यमंत्री ने ऑनलाइन जनपद के सभी ग्राम प्रधानों को अपनी-अपनी ग्राम पंचायतों में सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, पानी, सफाई के अलावा कोरोना महामारी बचाव कार्य के प्रति जागरूक रहने को कहा। इतना ही उन्होंने सरकार की सभी योजना को जनजन तक पहुंचाने पर विशेष जोर दिया। मुख्यमंत्री का ऑनलाइन उद्धबोधन को सुन ग्राम प्रधानों से सरकार से ग्राम पंचायत विकास की अनेकों अपेक्षाएं कीं।

जो जहां बैठा वहीं सुनने लगा मुख्यमंत्री की बातें

एटा। शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ग्राम प्रधानों के साथ ऑनलाइन बातचीत को प्रधानों ने दुकानों, खेतों, घरों एवं कार्यालय आदि जहां भी वो उपस्थित थे वहीं डिजिटल सेवाओं के माध्यम से सुना।

मुख्यमंत्री ने ग्राम पंचायतों का चौमुखी विकास कराने की प्रधानों से बात की है। उन्होंने गांव क्षेत्रों की दशा एवं दिशा सुधारने पर विशेष बल दिया है। जो कि बेहद सराहनीय है।

-संजय यादव, प्रधान ग्राम पंचायत साम्तखेड़ा, एटा।

मुख्यमंत्री ने सभी प्रधानों को शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कोरोना की दूसरी लहर में ग्राम प्रधानों की अहम भूमिका बताई है। इससे प्रधानों का मनोबल बढ़ा है। मुख्यमंत्री ने गांव के विकास कार्यों के अलावा सफाई एवं जल पर विशेष चर्चा की है।

-अनिल कुमार, प्रधान ग्राम पंचायत जमलापुर, एटा।

वर्चुअल संवाद के माध्यम से मुख्यमंत्री ने गांव में वैक्सीनेशन, स्वच्छता, सेनेटाइजेशन, मेडिसिन किट वितरण आदि पर अधिक ध्यान रखने को कहा है। पंचायत में शुद्ध पेयजल की व्यवस्था एवं गांव में सभी को सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने की जिम्मेदारी प्रधानों को सौंपी है।

-नेहा यादव, प्रधान ग्राम पंचायत नगला कांजी एटा।

ऑनलाइन उद्धबोधन में मुख्यमंत्री ने ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक से अधिक आयुष्मान कार्ड बनवाने को कहा है। इसके अलावा लोगों को कोरोना वैक्सीन लगवान के प्रति प्रेरित करने की बात कही है। ग्राम पंचायतों में पंचायत भवन निर्माण पर भी अधिक जोर दिया है।

-अनिल यादव, प्रधान ग्राम पंचायत दत्तपुर एटा।

मुख्यमंत्री के ऑनलाइन उद्धबोधन को सुन ग्राम पंचायतों में कोरोना वैक्सीन अधिक से अधिक लोगों को लगवानी है। गांव की सफाई पर विशेष ध्यान रखना है। गांव में शुद्ध पेयजल एवं शिक्षा पर विशेष ध्यान रखना है।

-आबाद खां, प्रधान ग्राम पंचायत भोबतपुर एटा।

मुख्यमंत्री की प्रधानों के साथ हुई बात के मुख्य बिंदु

एटा। मुख्यमंत्री ने सबसे पहले नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों को को बधाई दी। उसके बाद कोरोना की दूसरी लहर से लड़ाई में निगरानी समिति के सदस्य के रूप में ग्राम प्रधानों का योगदान सराहनीय रहा यह बात कही। निगरानी समिति ग्राम पंचायत में वैक्सीनेशन, स्वच्छता, सेनिटेशन, स्क्रीनिंग, मेडिसिन किट आदि पर ध्यान देंने को कहा। हर ग्राम पंचायत में स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था करने की बात कही। प्रत्येक ग्राम पंचायत में पंचायत भवन का निर्माण जल्द से जल्द कराने को कहा। पंचायत भवन को ग्राम सचिवालय के रूप में विकसित करने की बात कही। जिसमें इंटरनेट संबंधी समस्त सेवाएं ग्राम पंचायत में ही प्राप्त हो सके। लाभार्थी परक योजनाओं में लाभार्थियों के चयन में निष्पक्ष होकर कार्य कराने के निर्देश दिए तथा पात्र लाभार्थियों को योजना का पूर्ण लाभ मिले इस बर अधिक बल दिया। आयुष्मान योजना के तहत ग्राम पंचायतों में लोगों के कार्ड बनवाए जाए। ग्राम पंचायत में ऐसे व्यक्ति जो कि अपने स्वजन की सम्मानजनक अंत्येष्ठि करने में सक्षम नहीं हैं उन्हें ग्राम निधि से 5000 रुपए का लाभ दिलाएं। इसके साथ ही ग्राम पंचायत में लोगों को वैक्सीन लगवाने को प्रेरित करें।

संबंधित खबरें