ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश देवरियाबाल अधिकार संरक्षण आयोग की सदस्य ने जिले का जाना हाल

बाल अधिकार संरक्षण आयोग की सदस्य ने जिले का जाना हाल

देवरिया। निज संवाददाता उत्तर प्रदेश राज्य बाल संरक्षण आयोग की सदस्य श्रीमती...

बाल अधिकार संरक्षण आयोग की सदस्य ने जिले का जाना हाल
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,देवरियाTue, 04 Jan 2022 11:20 PM
ऐप पर पढ़ें

देवरिया। निज संवाददाता

उत्तर प्रदेश राज्य बाल संरक्षण आयोग की सदस्य श्रीमती निर्मला पटेल ने मंगलवार को जिले के वन स्टाप सेन्टर, राजकीय बाल गृह (बालक), कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय बैतालपुर और जिला अस्पताल स्थित पीकू वार्ड का निरीक्षण किया। जहां अधिकारियों से जानकारी लेने के साथ आवश्यक दिशा निर्देश दी। इसके बाद मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की समीक्षा बैठक की गई। अधिकारियों ने योजना के कार्य के बारे में जानकारी दी।

राज्य बाल संरक्षण आयोग की सदस्य निर्मला पटेल सोमवार की शाम को जिले में पहुंची। देर शाम को वन स्टाप सेंटर का निरीक्षण किया। इसके साथ ही पीड़ितों और प्रार्थना पत्रों के बारे में जानकारी ली। इसके बाद बाल गृह बालक का निरीक्षण किया। जहां बच्चों से वहां मिलने वाले योजनाओं के साथ कोविड को देखते हुए विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया। जिला महिला अस्पताल में 20 प्रसूता महिलाओं से अस्पताल मिल रही सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। इसके बाद वह पीकू वार्ड पहुंची और भर्ती बच्चों के बारे में जानकारी ली। इस दौरान वनस्टाप सेंटर की मैनेजर नीतू भारती, मीनू जायसवाल समेत अन्य कर्मचारी मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना का सदस्य ने जाना हाल

राज्य बाल संरक्षण आयोग की सदस्य ने विकास भवन के गांधी सभागार में जिले की मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की समीक्षा बैठक की। जिसमें जिला टास्क फोर्स में नामित सदस्यगण उपस्थित थे। जिला परिवीक्षा अधिकारी अनिल कुमार सोनकर ने उन्हें मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना, मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना सामान्य, प्रवर्तकता कार्यक्रम एवं पी.एम. केयर्स फार चिल्ड्रेन योजना के बारे में जानकारी दी। बताया कि जिले में 265 बालक, बालिकाओं को मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना से लाभान्वित किया जा रहा है, 93 बालक, बालिकाओं का चयन मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना सामान्य में किया गया है। 24 बालक, बालिका प्रवर्तकता कार्यक्रम से आच्छादित हो रहे हैं, एवं पी.एम. केयर्स फार चिल्ड्रेन योजना के अन्तर्गत 4 बालक, बालिकाओं को लाभान्वित किये जाने जाने के लिए स्वीकृति प्रदान हो चुकी है। समीक्षा बैठक में मुख्य राजस्व अधिकारी, जिला विकास अधिकारी, जिला समाज कल्याण अधिकारी, डी.एस.पी. महिला प्रकोष्ठ, गुमशुदा प्रकोष्ठ, ए.एच.टी.यू. थाना प्रभारी, सहायक श्रमायुक्त, अधीक्षक राजकीय बाल गृह (बालक), सदस्यगण किशोर न्याय बोर्ड, अध्यक्ष/ सदस्यगण बाल कल्याण समिति, बाल विकास परियोजना अधिकारी, महिला शक्ति केन्द्र, जिला बाल संरक्षण इकाई, सह जिला विद्यालय निरीक्षक, संरक्षण अधिकारी, चाइल्ड लाइन रेलवे, चाइल्ड लाइन कोलैब, खुला आश्रय गृह, प्रबंधक खुला आश्रय गृह आदि कार्मिक उपस्थित रहे ।

epaper