DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  देवरिया  ›  पहली बारिश में ही बह गया 2 महीने पहले ही बनाया गया पुल का पाया
देवरिया

पहली बारिश में ही बह गया 2 महीने पहले ही बनाया गया पुल का पाया

हिन्दुस्तान टीम,देवरियाPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 05:30 AM
पहली बारिश में ही बह गया 2 महीने पहले ही बनाया गया पुल का पाया

रामपुर कारखाना। हिन्दुस्तान संवाद

पहली बरसात में ही 2 महीने पहले बना पुल का पाया बह गया। रणछोड़ कुटी चौराहे के पास स्थित पुलिस की 12 लाख की लागत से मरम्मत कर पाए का निर्माण कराया गया था। मरम्मत के एक महीने बाद ही पाए में दरार पड़ गई थी। आपके अपने अखबार हिन्दुस्तान ने 30 मई के अंक में ही पुल में दरार की खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था।

रामपुर कारखाना क्षेत्र के रणछोड़ कुट्टी स्थित दोहरी नाला पर बहुत पुराना एक पुल है, जो क्षतिग्रस्त हो गया था। जानकारी होने पर बाढ़ खंड ने इसके निर्माण के लिए 17 लाख रुपए की लागत से टेंडर निकाला। जिस पर गोरखपुर के ठेकेदार द्वारा निविदा डाली गई। हालांकि कार्य पिछले वर्ष नहीं कराया गया। इस वर्ष आनन-फानन में पुल की मरम्मत कराई गई। रिपेयरिंग के बाद बाढ़ खंड द्वारा 12 लाख रुपए का भुगतान भी करा दिया गया। लेकिन दोहरी नाला पर बने इस पुल की 12 लाख रुपए की लागत से मानक के विपरीत की गई मरम्मत की पोल 29 मई को ही खुल गई थी। रिपेयरिंग कराए गए पुल में 1 माह के भीतर ही दरार पड़ गया था। इसे आपके अपने अखबार हिन्दुस्तान ने प्रमुखता से प्रकाशित किया था। पिछले तीन दिन से लगातार हो रही बारिश के चलते नाले में पानी का बहाव तेज होने के चलते मंगलवार की रात मरम्मत कराए गए पाए का एक हिस्सा बह गया। मरम्मत के नाम पर ठेकेदार और अधिकारियों द्वारा किए गए खेल पर ग्रामीण आक्रोशित हैं। क्योंकि यह पुल देवरिया उत्तरी के दर्जनों गांवों को देवरिया कसया मार्ग से जोड़ता है।

पुल की रिपेयरिंग कराई गई थी। पुराने पाए के सपोर्ट में नया पाया उसके चारो ओर बनाया गया था। उसके बहने की जानकारी मिली है। अवर अभियंता को सप्ताह भर में क्षतिग्रस्त पाए की मरम्मत कराने का निर्देश दिया गया है।

एके जाडिया, अधिशासी अभियंता बाढ़ खण्ड।

संबंधित खबरें