DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  देवरिया  ›  बैंक पोषित योजनाओं के निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करें जिम्मेदार
देवरिया

बैंक पोषित योजनाओं के निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करें जिम्मेदार

हिन्दुस्तान टीम,देवरियाPublished By: Newswrap
Wed, 16 Jun 2021 04:50 AM
बैंक पोषित योजनाओं के निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करें जिम्मेदार

देवरिया। निज संवाददाता

डीएम आशुतोष निरंजन ने मंगलवार को विकास भवन के गांधी सभागार में डीएलआरसी की त्रैमासिक समीक्षा की। उन्होंने सभी बैंकर्स एवं इससे जुडे़ विभागों को आपसी समन्वय के साथ कार्य करते हुए निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करने का निर्देश दिया। कहा कि आर्थिक स्वालम्बन का प्रमुख आधार बैंकों की वित्त पोषित योजनायें होती हैं। ऐसे में इसमें किसी प्रकार की कोई शिथिलता नहीं होनी चाहिये।

डीएम ने समीक्षा के दौरान किसानों के लिये संचालित केसीसी को प्राथमिकता के साथ बनाये जाने व अन्य शासकीय योजनाओं का पूरा करने के लिए अभियान चलाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि नगर निकायों व नगरपालिकाओं के ईओ प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत पात्रों को लाभ दिलाने के लिये विशेष अभियान चलायें। उन्होंने बैंकर्स एवं प्रशासन के बीच समन्वय पर बल देते हुए कहा कि इसके लिये पाक्षिक अन्तराल पर बैठक की जाये। इससे जुडे़ विभाग व बैंकर्स टीम भाव से कार्य करते हुए जिले को वित्त पोषित सभी योजनाओं में पहला स्थान दिलाने का काम करें। उन्होंने बैठक में समिति को दिये गये निर्देशों एवं निर्णयों को सभी बैंक शाखाओं में पहुंचाने का निर्देश दिया। डीएम ने उद्योग, ग्रामोद्योग, मत्स्य, कृषि सहित अन्य विभागों में संचालित बैंक पोषित योजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने बैकों को निर्देश दिया कि ऐसे योजनाओं में जो भी पत्रावलियां लम्बित हों व लक्ष्य आवंटित हो, उसे शतप्रतिशत पूरा किये जाये। उन्होंने प्रधानमंत्री स्वरोजगार योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, एक जनपद एक उत्पाद योजना, मुख्यमंत्री युवा रोजगार योजना, मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना, मुख्यमंत्री माटी कला योजना, पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्वरोजगार योजना, किसान क्रेडिट कार्ड, स्वयं सहायता समूहों के सीसीएल व बैंकवार ऋण आदि के कार्य प्रगतियों की समीक्षा करते हुए सभी बैंकों एवं जुड़े विभागों को बेहतर प्रगति लाने का निर्देश दिया। एलडीएम राकेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि सभी बैंकर्स निर्देशों का पालन करते हुए जिले को वित्त पोषित योजनाओं में पहला स्थान दिलाने में अपनी भागीदारी निभायेगें। इस दौरान डीडीएम नाबार्ड संचित सिंह, कृषि, मत्स्य, पशुपालन, ग्रामोद्योग, उद्योग सहित जुडे़ अन्य विभागों के अधिकारीगण, बैकों के जनपद स्तरीय समन्वयक आदि मौजूद रहे।

संबंधित खबरें