DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  देवरिया  ›  बरहज में मिला रसेल वाइपर प्रजाति का जहरीला सर्प
देवरिया

बरहज में मिला रसेल वाइपर प्रजाति का जहरीला सर्प

हिन्दुस्तान टीम,देवरियाPublished By: Newswrap
Wed, 16 Jun 2021 04:50 AM
बरहज में मिला रसेल वाइपर प्रजाति का जहरीला सर्प

बरहज। हिन्दुस्तान संवाद

रसेल वाइपर प्रजाति का एक जहरीला सर्प मंगलवार को एक रिहायशी झोपड़ी में मिला। परिजनों की सूचना पर पहुंचे वन विभाग बरहज की टीम ने डॉयल-112 की मदद से सर्प को एक बोरी में पकड़ा। बाद में वन विभाग कर्मियों ने सर्प को कुसुम्ही जंगल में छोड़ दिया।

बरहज थाना क्षेत्र बनकटिया गांव निवासी किसुन प्रसाद पुत्र मंगर प्रसाद के रिहायशी झोपड़ी में शाम करीब चार बजे कही से रसेल वाइफर प्रजाति का एक जहरीला सर्प आ गया था। किसी कार्यवश झोपड़ी में पहुंचे परिजनों की नजर अचानक कुंडली मार कर बैठे सर्प पर पड़ी तो घर वालों ने शोर मचाया। करीब दस फुट लंबे सर्प को देखने के लिए ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। बाद में घर वालों ने इसकी जानकारी डॉयल-112 को दी। जहां सूचना पर पहुंची पुलिस व वन विभाग बरहज की टीम ने गांव पहुंच सर्प को बोरे में पकड़ने का काम किया। बाद में डॉयल-112 के हेड कां. महेन्द्र यादव, शिव प्रताप सिंह, वन रक्षक राजकुंवर सिंह व दैनिक माली नंदू पकड़े गए सर्प को लेकर वन विभाग कार्यालय बरहज पर पहुंचे। वन क्षेत्राधिकारी बरहज राणा प्रताप सिंह के निर्देश पर वन विभाग कर्मियों ने वाइपर को कुसुम्ही जंगल में छोड़ने का काम किया।

रसेल वाइपर भारत, दक्षिण पूर्व एशिया, दक्षिणी चीन सहित ताइवान के भी इलाकों में पाए जाते हैं। जहरीले प्रजाति के इस सर्प के डसने से पांच मिनट के अंदर इंसान की मौत हो जाती है। पकड़े गए इस सर्प को कुसुम्ही जंगल में छोड़ा गया है।

राणा प्रताप सिंह, वन क्षेत्राधिकारी-बरहज।

संबंधित खबरें