DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › देवरिया › पैना गांव की वीरगाथा को दुहरा रहा शहीद स्मारक: जिलाधिकारी
देवरिया

पैना गांव की वीरगाथा को दुहरा रहा शहीद स्मारक: जिलाधिकारी

हिन्दुस्तान टीम,देवरियाPublished By: Newswrap
Sun, 01 Aug 2021 04:01 AM
पैना गांव की वीरगाथा को दुहरा रहा शहीद स्मारक: जिलाधिकारी

बरहज। हिन्दुस्तान संवाद

पैना सतीहड़ा घाट स्थित शहीद स्मारक पर शनिवार को शहादत दिवस मनाया गया। इस दौरान पैना गांव के शहीद वीर-वीरांगनाओं को शिद्दत से याद कर शहीद स्मारक पर श्रद्धा सुमन अर्पित किया गया। जहां वक्ताओं ने गांव के इतिहास पर प्रकाश डालते हुए शहीदों के पदचिन्हों पर चलने का संकल्प दिलाया।

बतौर मुख्य अतिथि जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने कहा कि 31 जुलाई 1857 की अल सुबह पैना गांव के रणबांकुरों ने अंग्रेजों से लड़ा था। उनसे लड़ते हुए गांव के 391 वीर-वीरांगनाओं ने प्राणों की आहूति दी थी। गांव के सतीहड़ा घाट पर बना शहीद स्मारक आज भी उनकी वीरगाथा को दुहरा रहा है। एसपी डॉ. श्रीपति मिश्र ने कहा कि पैना गांव के शहीदों के पराक्रम को विस्मृत नहीं किया जा सकता। शहीदों की शहादत युगों-युगों तक याद की जाएगी। इस दौरान डॉ. डीके सिंह, बीके सिंह, हरी प्रसाद सिंह, अन्तर्राष्ट्रीय पहलवान केशव सिंह आदि ने पैना गांव के इतिहास पर प्रकाश डालते हुए शहीदों के दिखाए गए पदचिन्हों पर चलने का संकल्प दिलाया। कार्यक्रम का संचालन पंकज शुक्ल ने किया। यहां आश्रम पीठाधीश्वर आंजनेय दास महाराज, ग्राम प्रधान रवि प्रकाश सिंह, पूर्व विधायक स्वामी नाथ, एसडीएम संजीव कुमार यादव, सीओ देव आनंद, खंड विकास अधिकारी आलोक दत्त उपाध्याय, सावित्री राय, घनश्याम सिंह, अशोक सिंह समेत गांव व क्षेत्र के अन्य लोगों ने शहीद स्थल पर श्रद्धा सुमन अर्पित किया।

संबंधित खबरें