DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › देवरिया › लोक अदालत में अधिक से अधिक वादों को करायें निस्तारित
देवरिया

लोक अदालत में अधिक से अधिक वादों को करायें निस्तारित

हिन्दुस्तान टीम,देवरियाPublished By: Newswrap
Sat, 10 Jul 2021 03:51 AM
लोक अदालत में अधिक से अधिक वादों को करायें निस्तारित

देवरिया। निज संवाददाता

उच्च न्यायालय इलाहाबाद के प्रशासनिक न्यायमूर्ति राजेश सिंह चौहान ने 10 जुलाई को आयोजित होने वाले राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिकाधिक वादों का निस्तारण कराये जाने को लेकर बैठक की। उन्होंने वर्चुअल बैठक करते हुए शुक्रवार को देवरिया के न्यायाधीशों के साथ बातचीत किया।

प्रशासनिक न्यायमूर्ति राजेश सिंह चौहान ने सबसे पहले लोक अदालत में अब तक संदर्भित मामलों के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि 10 जुलाई को आयोजित होने वाले राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिक से अधिक संख्या में वादों को निस्तारित कराया जाये। इसमें धारा 138, एनआई एक्ट, बैंक वसूली वाद, मोटर दुर्घटना, प्रतिकर याचिकाएं, पारिवारिक वाद, श्रम वाद, भूमि अधिग्रहण वाद, विद्युत, जल एवं सर्विस, राजस्व एवं सिविल वाद और प्री-लिटिगेशन मामलों का निस्तारण किया जाना है। देवरिया के न्यायाधीश रविनाथ ने राष्ट्रीय लोक अदालत में निस्तारण के लिये संदर्भित मामलों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि अब तक विभिन्न प्रकार के लम्बित और प्री-लिटिगेशन के लगभग 36,655 वादों को निस्तारण के लिये चिह्नित किया गया है। उन्होंने कहा कि इससे अधिक संख्या में वादों के निस्तारण का लक्ष्य रखा गया है।

संबंधित खबरें