DA Image
3 दिसंबर, 2020|6:50|IST

अगली स्टोरी

दोगुने रेट पर मास्क बेचने वाले दुकानदार पर केस

दोगुने रेट पर मास्क बेचने वाले दुकानदार पर केस

कोरोना वायरस से बचने के लिए लोगों ने बड़े पैमाने पर मास्क और सेनेटाइजर की खरीदारी शुरु कर दी है। इसकी वजह से कालाबाजारी भी शुरु हो गई है। डीएम आवास के समीप एक मेडिकल स्टोर पर दुगने रेट पर मास्क बेचा जा रहा था। औषधि निरीक्षक की तहरीर पर कोतवाली पुलिस ने दुकानदार और उसके भाई के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया है। कोरोना वायरस से बचाव के लोग सजग हो रहे है। जिला प्रशासन कोरोना को रोकने के लिए दिन रात जुटी हुई है। वहीं लोग इससे जुड़े हुए साधन को अपना रहे है। लोग इससे बचने के लिए उपाय कर रहे है। जिससे दुकानों पर मास्क और सेनेटाइजर की बिक्री बढ़ गई है। मांग बढ़ने पर दुकानदार मास्क और सेनेटाइजर को अधिक दाम पर बेच रहे है। इसके लिए एसडीएम, पूर्ति विभाग और औषधि विभाग दुकानों पर चेकिंग कर रही है। मंगलवार को किसी ने इसकी शिकायत डीएम से की। डीएम के निर्देश पर एसडीएम दिनेश मिश्र ने पूर्ति विभाग के इंस्पेक्टर फणीश्वर त्रिपाठी को दुकान पर भेजा। वे डीएम आवास के सामने भारत मेडिकल हाल पर पहुंचे और मास्क खरीदा। पूर्ति इंस्पेक्टर को मास्क 80 रुपया में दुकानदार ने दिया। पूछताछ में पता चला कि मास्क का दर 40 रुपया है। इसे अधिक दर पर बेचा जा रहा है। इसे एसडीएम ने गंभीरता से लेते हुए औषधि निरीक्षक को दुकानदार के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराने का निर्देश दिया। औषधि निरीक्षक जय सिंह की तहरीर पर कोतवाली पुलिस ने दुकान के प्रोपराईटर मुजाहिद अली और भाई सरहान के विरुद्ध आवश्यक वस्तु अधिनियम की धारा 3/7 के तहत मुकदमा दर्ज किया है। इस संबंध में कोतवाल टीजे सिंह ने बताया कि औधषि निरीक्षक की तहरीर पर दो लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Case on shopkeeper selling mask at double rate