DA Image
8 अप्रैल, 2021|9:49|IST

अगली स्टोरी

सात पक्षियों में बर्ड फ्लू मिलने पर पशु पालन विभाग ने बढ़ाई निगरानी

सात पक्षियों में बर्ड फ्लू मिलने पर पशु पालन विभाग ने बढ़ाई निगरानी

देवरिया। निज संवाददाता

जिले में एक साथ सात पक्षियों में बर्ड फ्लू मिलने पर पशु पालन विभान ने सतर्कता के साथ निगरानी बढ़ा दी है। सभी पशु चिकित्साधिकारियों को अपने क्षेत्र के मुर्गी, लेयर फार्मो के साथ ही ताल, तलैया और पोखरों में आने वाले प्रवासी पक्षियों की निगरानी करने का निर्देश मुख्य पशु चिकित्साधिकारी ने दिया है। उन्होंने किसी भी पक्षी की मौत पर तत्काल सूचना देने का निर्देश दिया है।

प्रदेश में भी कुछ जिलों में बर्ड फ्लू का केस आने के बाद पशु पालन विभाग काफी सतर्क हो गया है। पिछले सप्ताह रामपुर कारखाना, बरहज में कौओं की मौत की सूचना पर पहुंची पशुपालन विभाग की टीम ने उनका सेंपल लिया था। वहीं भटनी क्षेत्र के खजुरी करौता गांव में घायल मिले एक बगुले को ग्रामीण पशु अस्पताल लेकर पहुंचे थे। जहां पर इलाज के साथ ही उसका नमूना भी लिया गया था। विभाग ने विभिन्न मुर्गी व लेयर फार्मो से 60 मुर्गियों का भी नमूना लिया था। कुल 80 नमूनें को जांच करने को बरेली प्रयोगशाला भेजा गया था। शनिवार को आई रिपोर्ट में रामपुर कारखाना, बरहज के तीन-तीन कौओं तथा बगुले में बर्ड फ्लू पाया गया। एक साथ सात पक्षियों में वर्ड मिलने पर विभाग में हड़कंप मच गया। इसकी जानकारी मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी ने जिले के सभी पशु चिकित्साधिकारियों को दिया। उन्होंने जिले में बर्ड फ्लू के दस्तक देने के बाद से विशेष सतर्कता बरतने और निगरानी करने का निर्देश दिया है। ब्लाक स्तरीय टास्क फोर्स को सक्रियता से कार्य करने तथा पशु चिकित्सा अधिकारियों को अपने क्षेत्र के सभी मुर्गी, लेयर फार्मो की नियमित निरीक्षण करने और फार्म मालिकों से संपर्क में रहने को कहा है। जिससे अचानक पक्षियों की मरने की तत्काल सूचना मिल सके। उन्होंने क्षेत्र के ताल, तलैया, पोखरों आदि में आने वाले प्रवासी पक्षियों की विशेष निगरानी करने का निर्देश दिया है। जिससे बाहर से आने वाले पक्षियों से बीमारी फैलने की समय से जानकारी मिल सके। जिले में किसी पक्षियों के मरने पर तत्काल सूचना देने और पशु चिकित्साधिकिारयों को मौके पर पहुंचने को कहा है।

जिले में सात पक्षियों में बर्ड फ्लू मिला है। इसके बाद से जिले में सतर्कता और निगरानी बढ़ा दिया गया है। सभी पशु चिकित्साधिकारियों को अपने क्षेत्र में मुर्गी फार्मो का निरीक्षण तथा ताल, तलैया, पोखरों में बाहर से आने वाले पक्षियों की निगरानी करने का निर्देश दिया गया है। पक्षियों के मरने की सूचना तत्काल देने को कहा गया है।

डॉ विकास साठे, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Animal Husbandry Department increases surveillance on bird flu in seven birds