DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सचिवों ने विकास भवन के बाहर दिया धरना

सचिवों ने विकास भवन के बाहर दिया धरना

तीन सूत्रीय मांगों को लेकर पिछले तीन दिन से सामूहिक अवकाश पर चल रहे ग्राम पंचायतों में तैनात सचिवों ने विकास भवन के बाहर धरना दिया। आरोप लगाया कि उनकी जायज मांगों को सरकार नहीं मान रही है। वह लोग कई माह से लगातार आंदोलन कर रहे है। जब तक उनकी मांगे नहीं मानी जाती, तब तक वह लोग आंदोलन करते रहेंगे।

बुधवार को ग्राम पंचायत अधिकारी व ग्राम विकास अधिकारियों ने संयुक्त रूप से विकास भवन के बाहर अपनी मांगों को लेकर धरना दिया। सचिव पिछले तीन दिन से अपनी मांगों को लेकर सामूहिक अवकाश पर चल रहे है। सचिवों का कहना है कि शैक्षिक योग्यता स्नातक के साथ ओ लेबल कंप्यूटर डिप्लोमा, वेतनमान के साथ ही सीधी भर्ती के सापेक्ष पदोन्नति को लेकर उनकी मांगें अभी तक नहीं मानी गई है। कई माह से समय-समय पर इन मांगों को लेकर आंदोलन किया जा रहा है। फिर भी सरकार ने अभी तक उनकी मांगों को अनसुना कर दिया है। सचिवों ने सीडीओ, डीडीओ व डीपीआरओ से मिलकर अपनी समस्याएं बताई। धरना में अंबरीश त्रिपाठी, जानकीशरण सिंह, जयप्रकाश सिंह, सुरेन्द्रनाथ, सतीश पांडेय, विजय शुक्ल आदि शामिल रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: The secretaries drove out of Vikas Bhawan