DA Image
19 अक्तूबर, 2020|3:26|IST

अगली स्टोरी

कोरोना संक्रमण में आई कमी, लापरवाही से बढ़ सकता खतरा

default image

पिछले करीब एक सप्ताह से जिले में कोरोना संक्रमण में काफी कमी आई है। पूर्व में औसतन दो दर्जन मरीज मिल रहे थे। लेकिन अब रोज करीब 15 कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं। हालांकि स्वास्थ्य महकमा रोजाना डेढ़ हजार से अधिक सैंपलों की जांच करवा रहा है।

कोरोना संक्रमण में इधर काफी हद तक कमी सामने आई है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जांच में हालांकि कोई कमी नहीं की गई है। औसतन रोजाना डेढ़ हजार से अधिक सैंपल एकत्र कर जांच कराई जा रही है। जिसमें लगभग एक हजार सैंपलों की जांच एंटीजन रैपिड किट व ट्रूनॉट मशीन से हो रही है। जबकि पांच सौ से अधिक सैंपल प्रयोगशाला में जांच को भेजे जा रहे हैं। खास बात यह है कि एक सप्ताह पहले रोजाना दो दर्जन के आसपास कोरोना संक्रमित मिल रहे थे। लेकिन अब इधर एक सप्ताह से लगभग 15 संक्रमित औसतन प्रतिदिन जांच में पाए जा रहे है। चिकित्सकों का मानना है कि अगर लापरवाही में सुधार नहीं आया तो संक्रमण बढ़ भी सकता है। ठंड के दौरान संक्रमण बढ़ने की संभावना रहती है। यह मौसम वायरस के अनुकूल माना जाता है।

सीएओ डा. विनोद कुमार यादव का कहना है कि इधर संक्रमण में कमी आई है। लेकिन इससे यह मानकर कतई न चलें कि संक्रमण कम हो गया है। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए बचाव बहुत ही जरूरी है। सोशल डिस्टेंसिंग का सभी लोग पालन अवश्य करें। मास्क लगाकर ही बाहर निकलें। भीड़ से बचने का प्रयास करें। लापरवाही बिल्कुल न करें। कारण कि यही लापरवाही भारी पड़ सकती है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Reduction in corona infection carelessness can increase risk