अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोलगदहिया में मॉडल क्लास शुरू कराने की तैयारी

कोलगदहिया में मॉडल क्लास शुरू कराने की तैयारी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संभावित दौरे को देखते हुए जिला प्रशासन ने मुख्यालय से सटे कोलगदहिया गांव को चमकाने का कार्य तेज कर दिया है। सफाईकर्मियों को लगाकर सफाई कराई जा रही है। गांव के रास्ते को मजदूर लगाकर दुरूस्त किया जा रहा है। इसके साथ ही पूर्व माध्यमिक विद्यालय में मॉडल क्लास संचालित करने की तैयारी शुरू कर दी गई है। जिला प्रशासन इसका शुभारंभ मुख्यमंत्री के हाथों कराने के प्रयास में है। इस क्लास रूम को चमकाने का काम तेज कर दिया गया है।

आगामी 16 सितंबर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आने की संभावना को लेकर जिला प्रशासन तैयारियों में जुटा है। सीएम मुख्यालय के किसी एक गांव में जाकर निरीक्षण के साथ विद्यालय में शिक्षा की गुणवत्ता को भी देख सकते है। इसको देखते हुए जिला प्रशासन ने मुख्यालय से सटे कोलगदहिया गांव में तैयारी शुरू कर दी है। इस गांव के रास्ते को दुरूस्त किया जा रहा है। गलियों की साफ-सफाई को लेकर सफाईकर्मी लगा दिए गए है। दिन भर अधिकारियों को जमावड़ा लग रहा है। जिलाधिकारी से लेकर प्रत्येक विभाग के अधिकारी अपने कर्मचारियों के साथ निगरानी करने में जुटे है। इस गांव में अभी तक 153 प्रधानमंत्री आवास दिए गए है। जिनका पूरा निर्माण होने का दावा किया जा रहा है। आवासों को भी चमकाने में प्रशासन जुटा है। जिन लाभार्थियों को शौंचालय दिए गए है, उनका निर्माण तेजी कराने में कर्मचारी लगे हुए है। इसके साथ ही पूर्व माध्यमिक विद्यालय कोलगदहिया में मॉडल क्लास शुरू कराने की बेसिक शिक्षा विभाग ने तैयारी की है। यहां पर क्लास रूम की साफ-सफाई के साथ पुताई कराई जा रही है। इसमें एक प्रोजेक्टर लगाया जाएगा। जिसके जरिए बच्चों को पढ़ाया जाएगा। जनपद आगमन के दौरान मुख्यमंत्री इसका शुभारंभ भी कर सकते है। बुधवार को खंड शिक्षा अधिकारी चंद्रमोहन सिंह ने कोलगदहिया के सभी विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया। सभी जगह साफ-सफाई, फर्नीचर, शौंचालय आदि की व्यवस्था दुरूस्त कराने के निर्देश दिए गए। उन्होनें शिक्षा की गुणवत्ता को भी देखा। जिला प्रशासन इस गांव में जो भी कमियां उनको दूर करने में जुटा है। पिछली बार मुख्यमंत्री को इसी गांव में पहुंचकर जायजा लेना था। लेकिन बाद में बनाड़ी गांव का जायजा लिया था। सीएम के न जाने पर बाद में इस गांव का जिले के प्रभारी मंत्री महेन्द्र ने पहुंचकर निरीक्षण करते हुए कार्यों को देखा था।

मेला में करीब आठ हजार लाए जाएंगे लाभार्थी

जिला प्रशासन की ओर से पुलिस लाइन में मेला लगाने के लिए तैयारी की जा रही है। यहां पर विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को भी लाने की तैयारी है। इस मेला में करीब 350 दिव्यांग, मनरेगा के एक हजार जाबकार्डधारक मजदूर, सौभाग्य योजना, उज्जवला योजना व उजाला योजना के एक-एक हजार लाभार्थी के अलावा मातृ वंदना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, स्वच्छ भारत मिशन के भी लाभार्थी लाए जाएंगे। इसी तरह आईसीडीएस व स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए गए कि दोनों विभाग पांच-पांच गर्भवती महिलाओं को किट उपलब्ध कराने का इंतजाम रखेंगे। जिनको मुख्यमंत्री के हाथों प्रदान करने की संभावना है।

लोकार्पण और शिलान्यास की चल रही तैयारी

मुख्यमंत्री जनपद आगमन के दौरान करोड़ों की लागत से बनने वाली कई योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण भी कर सकते है। इसको देखते हुए जिला प्रशासन की ओर से तैयारियां चल रही है। हालांकि अभी तक मुख्यमंत्री का अधिकृत कार्यक्रम जिला प्रशासन को नहीं मिला है। सभी कार्यदाई संस्थाओं को निर्देश दिए गए है कि वह अपने-अपने शिलान्यास व लोकार्पण संबंधी परियोजनाओं की जानकारी अर्थ एवं संख्याधिकारी को उपलब्ध कराएं। काफी विभागों ने अपनी योजनाएं उपलब्ध कराई है। फिलहाल शिलान्यास व लोकार्पण वाली योजनाओं की सूची फाइनल नहीं हो पाई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Preparation of model class in Kolagadhiya