DA Image
Wednesday, December 1, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश चित्रकूटबफर में उपलब्धता के सापेक्ष 12 गुना समितियों से डिमांड

बफर में उपलब्धता के सापेक्ष 12 गुना समितियों से डिमांड

हिन्दुस्तान टीम,चित्रकूटNewswrap
Wed, 27 Oct 2021 03:16 AM
चित्रकूट। संवाददाता
 खाद को लेकर मारामारी की स्थिति लगातार बनी है। लगातार समितियों से...
1/ 2चित्रकूट। संवाददाता खाद को लेकर मारामारी की स्थिति लगातार बनी है। लगातार समितियों से...
चित्रकूट। संवाददाता
 खाद को लेकर मारामारी की स्थिति लगातार बनी है। लगातार समितियों से...
2/ 2चित्रकूट। संवाददाता खाद को लेकर मारामारी की स्थिति लगातार बनी है। लगातार समितियों से...

चित्रकूट। संवाददाता

खाद को लेकर मारामारी की स्थिति लगातार बनी है। लगातार समितियों से डिमांड आ रही है। वहीं बफर में उपलब्ध डीएपी खत्म होने की ओर है। जिन समितियों में खाद पहुंच रही है, वहां जानकारी मिलते ही किसान टूट पड़ रहे हैं। किसानों की भीड़ व बफर में उपलब्धता कम होने की वजह से अब खाद का वितरण जरूरत के हिसाब से किया जा रहा है। पहाड़ी, मऊ की समितियों में किसानों की लाइनें लगी रही। जबकि जहां खाद नहीं पहुंची, वहां की समितियों में ताले लटक रहे हैं।

नवंबर माह के पहले सप्ताह से गेहूं की बुवाई तेजी से शुरू हो जाएगी। इसको लेकर किसान काफी परेशान हो रही है। बुवाई के पहले ही खाद का इंतजाम करने में किसान जुटे हैं। इधर, रैक न आने की वजह से बफर भी खाली होता जा रहा है। रोजाना समितियों से डीएपी के लिए डिमांड चेक पहुंच रहे हैं। मौजूदा समय पर डेढ़ दर्जन समितियों ने 750 एमटी डीएपी की डिमांड कर रखी है। जबकि बफर में सिर्फ 60 एमटी डीएपी बची है। सहकारी समितियों में केवल 550 एमटी डीएपी की उपलब्धता बताई जा रही है। बफर में उपलब्धता न होने के कारण समितियों में खाद न पहुंचने से ताले लटक रहे हैं। किसान समितियों से वापस होने को मजबूर है। मंगलवार को आठ समितियों में खाद भेजी गई। खाद पहुंचते ही किसानों की लाइनें लगी रही। किल्लत को देखते हुए अब किसानों को सीमित मात्रा में ही खाद दी जा रही है। पहाड़ी की दोनों समितियों में खाद का वितरण किया गया।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें