Women clamped for closure of liquor shops - शराब दुकान बंद कराने को लेकर महिलाएं लामबंद DA Image
12 नबम्बर, 2019|9:54|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शराब दुकान बंद कराने को लेकर महिलाएं लामबंद

व्यासपुर गांव के समीप पड़ाव-साहूपुरी मार्ग किनारे खुले देशी शराब व बीयर की  दुकान बंद कराने को शनिवार को गांव की दर्जनों महिलाएं लामबंद हो गईं। हाथों में झाड़ू व डंडा लेकर महिलाओं ने शराब की दुकान का घेराव किया। महिलाओं का तेवर देख दोनों दुकान के सेल्समैन शटर बंदकर भाग निकले। मौके पर पहुंची पुलिस ने उच्चाधिकारियों से वार्ता कर उचित पहल कराने का आश्वासन देकर शांत कराया। करीब एक घंटे तक अफरा-तफरी का माहौल कायम रहा। 

आक्रोशित महिलाओं ने आरोप लगाया कि देशी शराब व बीयर की दुकान खुल जाने से गांव का माहौल खराब हो रहा है। परिवार के पुरुषों के साथ ही युवाओं भी नशे के आदी हो रहे हैं। वहीं पूरे दिन शराबियों का जमावड़ा लगा रहता है। आए दिन नशे में धुत युवक सड़क से गुजरने वाली महिलाओं व युवतियों पर छीटाकंशी करते हैं। बीते शुक्रवार की रात शराब दुकान के सेल्समैन के बुलेट के धक्के से गांव का 25 वर्षीय रामचंद्र व 35 वर्षीय दीपक गंभीर रूप से घायल हो गए। ग्रामीणों ने जब विरोध किया, तो आरोपित देख लेने की धमकी देकर भाग निकला। 

महिलाओं ने चेताया कि यदि दोनों शराब की दुकान बंद नहीं हुई, तो उग्र आंदोलन को बाध्य होंगी। उधर, जलीलपुर पुलिस चौकी प्रभारी शमशेर बहादुर सिंह ने बताया कि फिलहाल शराब की दोनों दुकान बंद कराकर उच्चाधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। अधिकारियों के आदेश पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। प्रदर्शन करने वालों में मंजू देवी, मुन्नी देवी, रेखा देवी, बेचनी देवी, शांति देवी, पुष्पा देवी, उर्मिला देवी, अनवरी देवी, शीला देवी, लालती देवी, मालती देवी, रज्जो देवी, तारा देवी, बुधिया देवी आदि शामिल रहीं। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Women clamped for closure of liquor shops