DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  चंदौली  ›  आज नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान लेंगे शपथ

चंदौलीआज नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान लेंगे शपथ

हिन्दुस्तान टीम,चंदौलीPublished By: Newswrap
Tue, 25 May 2021 03:11 AM
आज नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान लेंगे शपथ

चंदौली। कार्यालय संवाददाता

जिले के नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों को आज शपथ दिलाया जाएगा। कोरोना महामारी की वजह से पहली बार ग्राम प्रधानों को ऑनलाइन शपथ दिलाने की व्यवस्था की गई है। मिनी सचिवालयों में जुटे प्रधानों को वर्चुअल के माध्यम से दोपहर 12 बजे ब्लॉकवार नामित नोडल अधिकारी शपथ दिलाएंगे। ऐसे ग्राम पंचायत के प्रधानों को शपथ दिलाई जाएगी, जहां दो तिहाई ग्राम पंचायत सदस्य होंगे। कोरोना संक्रमण को देखते हुए शारीरिक दूरी के साथ शपथ ग्रहण की प्रक्रिया पूरी होगी। शपथ ग्रहण को 25 व 26 मई निर्धारित किया गया है।

जिले में 734 ग्राम पंचायतों में मात्र 465 ग्राम पंचायतों के प्रधान मंगलवार को वर्चुअल माध्यम से शपथ ले सकेंगे। वहीं दो तिहाई सदस्यों का चयन नहीं होने से 269 ग्राम पंचायतों के प्रधान शपथ नहीं ले पाएंगे। प्रधानों को 25 व 26 मई को वर्चुअल के माध्यम से शपथ दिलाई जाएगी। इसकी तैयारी पूरी कर ली गई है। ग्राम प्रधानों व ग्राम पंचायत सदस्यों को मिनी सचिवालयों में इकट्ठा किया जाएगा। डीएम संजीव सिंह ने ब्लॉकवार शपथ दिलाने को नोडल अधिकारी नामित किया है। इसके तहत सदर ब्लॉक में जिला बेसिक शिक्षाधिकारी, बरहनी में जिला समाज कल्याण अधिकारी, नियामताबाद में जिला विकास अधिकारी, धानापुर में सहायक निदेशक बचत, चहनियां में जिला उद्यान अधिकारी, सकलडीहा में मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, चकिया में जिला विद्यालय निरीक्षक, शहाबगंज में जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी व नौगढ़ में सहायक निदेशक मत्स्य को नोडल अधिकारी बनाया गया है। ग्राम प्रधानों के शपथ ग्रहण के बाद प्रधानों से शपथ पत्र पर हस्ताक्षर कराकर ब्लाक में जमा कराया जाएगा। जहां से डीपीआरओ कार्यालय शपथ पत्र प्रेषित होगा।

सचिव करेंगे प्रधानों की मदद

जिले के कई नवनिर्वाचित प्रधानों के पास एंड्राएड मोबाइल नहीं है। इसके लिए जिला प्रशासन की तरफ से सभी सेक्रेटरी को पत्र जारी कर सहयोग करने का निर्देश दिया गया है। सचिव अपने मोबाइल अथवा लैपटॉप में जूम एप डाउनलोड कर प्रधानों को शपथ दिलाएंगे।

27 मई को होगी पहली बैठक

ग्राम प्रधानों के शपथ ग्रहण के बाद 27 मई को पहली बैठक में समितियों का गठन किया जाएगा। ग्राम प्रधान समितियों का अध्यक्ष होगा। जबकि विशेष आमंत्रित सदस्य के साथ ही सभी वर्गों से एक-एक सदस्य बनाए जाएंगे। उन्हें निर्माण कार्य, शिक्षा, स्वास्थ्य समेत अन्य कार्यों के लिए प्रस्ताव तैयार करने, निगरानी की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी। समितियों को वित्तीय व प्रशासनिक अधिकार दिए जाएंगे। इसके साथ ही गांव में विकास के कार्य शुरू होने की उम्मीद है।

संबंधित खबरें