DA Image
10 अगस्त, 2020|8:51|IST

अगली स्टोरी

आज भाइयों की कलाई पर बंधेगा राखी

आज भाइयों की कलाई पर बंधेगा राखी

आज भाइयों की कलाई पर बहनें स्नेह व अटूट रिश्ते की डोर के स्वरूप राखी बांधेंगी। घर-घर रक्षाबंधन की धूम दिखेगी। बहनों को हर साल की तरफ इस बार भी भाई उपहार देकर अटूट रिश्ते को मजबूत बनाएंगे। रक्षाबंधन के खास त्योहार को लेकर उत्साह व उमंग बनी है। भाई-बहन का यह खास त्योहार घर-घर मनाया जाएगा। त्योहार के मद्देनजर पूर्व संध्या रविवार को साप्ताहिक बंदी के बाद भी बाजार में चहल पहल रही। राखी व मिठाइयों की दुकानों पर दिनभर खरीदारी हुई। लंबे समय के बाद इस बार रक्षाबंधन के दिन विशेष संयोग बन रहा है। इस साल सावन के आखिरी सोमवार पर सावन पूर्णिमा व श्रवण नक्षत्र का महासंयोग बन रहा है। यह बहुत ही उत्तम संयोग है। रक्षा बंधन पर संयोग बहुत ही लाभदायक होगा। इस दिन तीन विशेष संयोग बनने पर बहन-भाइयों को विशेष लाभ मिलेंगे। आज सुबह 6:51 बजे से ही सर्वार्थ सिद्धि योग शुरू हो रहा है। इसके साथ ही रक्षाबंधन पर सुबह उत्तराषाढ़ा नक्षत्र और 7:18 बजे से श्रवण नक्षत्र रहेगा। रक्षाबंधन की दृष्टि से अति उत्तम है।राखी बांधने का शुभ मुहूर्त दो अगस्त की रात 8.36 बजे से तीन अगस्त सुबह 8.31 बजे तक भद्रा काल रहेगा। इस समय राखी बांधना शुभ नहीं है। रक्षाबंधन के लिए आज सुबह 8.31 बजे से रात 8.20 बजे तक विशेष मुहूर्त रहेगा। इस दौरान बहन अपनी भाई को किसी भी समय राखी बांध सकते हैं। ज्योतिषाचार्य पंडित संतोष तिवारी ने बताया कि इस दिन राहु काल सुबह 07:30 से 9 बजे तक रहेगा। इस कारण से 9 बजे के बाद शुभ घड़ी में राखी बांधना उत्तम होगा। राखी बांधने की सही विधिज्योतिषाचार्य पंडित कुंजबिहारी मिश्रा के अनुसार राखी को सही समय पर सही विधि से बांधना चाहिए। सबसे पहले भाई को पूर्व दिशा की तरफ मुंह करके बैठाना चाहिए। इसके बाद बहन को अच्छे से पूजा की थाली सजानी चाहिए। पूजा की थाली में चावल, रौली, राखी, दीपक होना चाहिए। इसके बाद बहन को भाई के अनामिका उंगली से टीका कर चावल लगाने चाहिए। अक्षत अखंड शुभता को प्रदर्शित करते हैं। इसके बाद भाई की आरती उतारकर जीवन की मंगल कामना करनी चाहिए। बाजार में रही चहल-पहल भाई-बहन के अटूट प्रेम का पर्व रक्षाबंधन की पूर्व संध्या पर सप्ताहिक बंदी के बावजूद रविवार को बाजार में राखी व मिठाई की दुकानें खोलने की छूट रही। डीएम नवनीत सिंह चहल ने रक्षाबंधन के मद्देनजर दोपहर 12 से शाम 5 बजे तक राखी व मिठाई की दुकानें खोलने की अनुमति दी। इससे रविवार को बाजार में दिनभर चहल-पहल दिखी। महिलाओं ने अपने भाइयों की कलाई के लिए रक्षा-सूत्र खरीदें। मिष्ठान की दुकानों पर भी लोगों भीड़ नजर आई। पुलिस बाजार का भ्रमण करती नजर आयी। पुलिस ने लोगों को सोशल डिस्टेंस के नियमों का पालन करने की सलाह दी। खोवा व पनीर में दिखा उछाल रक्षाबंधन की पूर्व संध्या पर बाजार में खोवा व पनीर की कीमत में उछाल देखने को मिला। बाजार में रविवार को खोवा व पनीर 400-450 रुपये प्रति किलो तक भाव में बिका। जबकि सामान्य दिनों में खोवा 170-200 रुपये और पनीर 250 रुपये प्रति किलो बिकता है। कीमत में अप्रत्याशित बढ़ोतरी से लोगों को महंगाई की मार का सामना करना पड़ा। हालांकि त्योहार की वजह से लोगों ने महंगी होने के बाद भी खरीदारी की।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Today Rakhi will be tied on the wrist of brothers