ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश चंदौलीदिनभर छाए रहे आसमान में बादल, देर शाम हुई बूंदाबांदी

दिनभर छाए रहे आसमान में बादल, देर शाम हुई बूंदाबांदी

मिचौंग चक्रवात से मौसम का मिजाज बिगड़ने से किसानों की धड़कनें बढ़ी मिचौंग चक्रवात से मौसम का मिजाज बिगड़ने से किसानों की धड़कनें बढ़ीमिचौंग चक्रवात...

दिनभर छाए रहे आसमान में बादल, देर शाम हुई बूंदाबांदी
हिन्दुस्तान टीम,चंदौलीThu, 07 Dec 2023 12:00 AM
ऐप पर पढ़ें

पीडीडीयू नगर, वरिष्ठ संवाददाता।
मौसम का मिजाज देखकर किसानों की धड़कनें बढ़ गई हैं। बंगाल की खाड़ी में बने मिचौंग चक्रवात का असर दूसरे दिन बुधवार को भी जिले में रहा। जिसके चलते दिनभर आसामन में बादल छाए रहे और देर शाम जिलेभर में हल्की बूंदाबांदी हुई। इससे ठंड का असर बढ़ेगा और खेल खलिहान में पड़े धान और फसल को भी नुकसान होने की आशंका काफी बढ़ गई है। इससे किसान काफी चिंतित हैं। मौसम विज्ञानी के अनुसार, बंगाल की खाड़ी में चक्रवात बनने का असर सात दिसंबर तक बने रहने और बारिश होने का अनुमान है।

बुधवार को जिले अधिकतम तापमान 25 और न्यूनतम 19 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। अधिकतम तापमान में एक डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है। मौसम के उतार चढ़ाव से अस्पताल में मरीज भी बढ़ रहे हैँ। किसान धान की कटाई से लेकर मढ़ाई में जुटे हुए है। लेकिन बादल छाने और बूंदाबांदी से नमी होने के कारण हार्वेस्टिंग का काम भी प्रभावत हो गया है। किसान अब अपनी धान की फसल की कटाई भी नहीं करा पा रहे हैं। बुधवार को दिनभर आसमान बादल छाने से सूर्य के दर्शन नहीं हुए। खेत से लेकर खलिहान तक वे अपनी फसल और धान को बचाने में जुट गए है। बारिश हो गई तो किसानों का धान सड़ने के कगार पर पहुंच जाएगा। मौसम विज्ञानी अतुल कुमार सिंह के अनुसार, बंगाल की खाड़ी में बन रहे मिचौंग चक्रवात से नमी बढ़ गई है। बंगाल की खाड़ी में बन रहे चक्रवात का प्रभाव सात दिसंबर तक बने रहने का अनुमान है। बादल छाए रहने तथा हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। चक्रवात का असर खत्म होने और बादल छंटने के बाद ठंड का असर तेज होगा और कोहरा भी पड़ेगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें