DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विकास नहीं नाम बदलने में जुटी भाजपा: पूर्व सांसद

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह व यूपी के सीएम आदित्यनाथ आगामी पांच अगस्त को जनता का लाखों रुपये खर्च कर जिले के विकास के लिए कोई नई परियाजनों लेकर नहीं आ रहे है। बल्कि सिर्फ स्टेशन का नामकरण करने आ रहे है। देश के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का यहां पर जन्मस्थली होने के बावजूद स्टेशन का नाम पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन कर दिया जाना उनकी दूषित मानसिकता का परिचायक है। इसका सपा लोकतांत्रित ढंग से विरोध करेंगी, साथ ही जनता में जागरूकता अभियान चलायेगी। उक्त बाते सोमवार को सपा के पूर्व सांसद रामकिशुन ने पार्टी कार्यालय में कहीं। 

पूर्व सांसद रामकिशुन ने कहा कि भाजपा सरकार को विकास से कोई लेना देना नहीं है। सिर्फ स्थानों का नाम बदलने में लगी हुई है। यह सरकार सिर्फ पूर्ववर्ती सपा सरकार में किये गये कार्यो पर ही शिलान्यास व फीता काटकर उद्घाटन कर रही है। कहा कि सपा सरकार द्वारा मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास किया गया। लेकिन भाजपा ने मेडिकल कॉलेज को मिर्जापुर स्थानांतरित कर प्रधानमंत्री द्वारा शिलान्यास करा दिया। बाणसागर परियोजना को रोक दिया गया। पूर्व सांसद ने कहा कि नरवन क्षेत्र के किसानों की सिंचाई के लिए 50-50 क्यूसेक के दो लिफ्ट कैनाल अदसड व चिरईगांव में 60-60 करोड़ की लागत से सपा सरकार ने निर्माण कार्य शुरू कराया, लेकिन रोक दिया गया। सैयदराजा में 11 करोड़ की लागत से सपा सरकार ने राजकीय महिला महाविद्यालय की स्थापना कराया। पद सृजन व भवन होने के बावजूद भी पढ़ाई नहीं शुरू हो पाई। प्रदेश के करीब डेढ़ साल के कार्यकाल में जिले में कहीं भी विकास होते नहीं दिखाई दे रहा है। आरोप लगाया कि रामनगर व बलुआ में गंगा नदी पर पुल का भी निर्माण सपा सरकार में शुरू हुआ, लेकिन फीता भाजपा के नेताओं ने काटा। भाजपा को आगामी चुनाव में जनता जवाब देगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:SP attacks on BJP