DA Image
27 नवंबर, 2020|10:14|IST

अगली स्टोरी

अधिवक्ता पर हमला व फर्जी मुकदमे के विरोध में प्रदर्शन

अधिवक्ता पर हमला व फर्जी मुकदमे के विरोध में प्रदर्शन

अधिवक्ता साथियों पर जानलेवा हमला और फर्जी मुकदमा में फंसाए जाने के विरोध में अधिवक्ता संघ लामबंद है। संयुक्त बार से जुड़े अधिवक्ताओं ने शनिवार को तहसील पर नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शित किया। हमलावरों के खिलाफ कार्रवाई व अधिवक्ता पर दर्ज मुकदमा वापस लेने की मांग की। चेताया कि शीध्र ही मांग पूरी नहीं हुई, तो उग्र आंदोलन को बाध्य होंगे। एसडीएम प्रदीप कुमार को मांगों के समर्थन में पत्रक सौंपा।अधिवक्ताओं ने आरोप लगाया कि जिले में कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो गई है। एक मुकदमे की पैरवी करने पर वरिष्ठ अधिवक्ता जिलाजीत तिवारी पर जानलेवा हमला हुआ। इसके बाद भी हमलावर की गिरफ्तारी नहीं हो रही है। वहीं सकलडीहा तहसील डेमोक्रेटिक बार के पूर्व अध्यक्ष शैलेंद्र पांडेय उर्फ कवि पर फर्जी ढ़ग से धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर दिया गया। पीडीडीयू नगर तहसील के दो अधिवक्ताओं के खिलाफ भी फर्जी मुकदमा दर्ज कराया गया है। आक्रोशित अधिवक्ताओं ने साथियों पर हमला और झूठे मुकदमों को लेकर विरोध जताया। अधिवक्ता ने मांगें पूरी नहीं होने पर सोमवार से व्यापक आंदोलन चलाने का निर्णय लिया। प्रदर्शन करने वालों में डेमोक्रेटिक बार अध्यक्ष अतुल तिवारी, बार एसोसिएशन महामंत्री श्यामजी प्रसाद, पूर्व महामंत्री नितिन तिवारी, उपेंद्र नारायण सिंह, आलोक पांडेय, रोहित सिंह, उमाशंकर, उदय प्रताप सिंह आदि अधिवक्ता शामिल रहे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Protest against advocate 39 s attack and fake case