DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

VIDEO: बिहार और पूर्वोत्तर में बाढ़ के कारण बीच रास्ते ट्रेनें रद्द

मुगलसराय रेलवे स्टेशन पर ब्रह्मपुत्र मेल के यात्रियों को समझाते पुलिसकर्मी।

1 / 6मुगलसराय रेलवे स्टेशन पर ब्रह्मपुत्र मेल के यात्रियों को समझाते पुलिसकर्मी।

ब्रह्मपुत्र मेल के बीच रास्ते में निरस्त होने से सामान लेकर परेशान महिला यात्री

2 / 6ब्रह्मपुत्र मेल के बीच रास्ते में निरस्त होने से सामान लेकर परेशान महिला यात्री

बाढ़ की वजह से ब्रह्मपुत्र मेल के निरस्त होने की यात्रियों को जानकारी देते सीओ

3 / 6बाढ़ की वजह से ब्रह्मपुत्र मेल के निरस्त होने की यात्रियों को जानकारी देते सीओ

ब्रह्मपुत्र मेल के निरस्त होने से मुगलसराय स्टेशन पर ट्रेन से उतरी यात्रियों की भीड़

4 / 6ब्रह्मपुत्र मेल के निरस्त होने से मुगलसराय स्टेशन पर ट्रेन से उतरी यात्रियों की भीड़

प्लेटफार्म पर पूछताछ काउंटर से जानकारी लेने को जुटी यात्रियों की भीड़।

5 / 6प्लेटफार्म पर पूछताछ काउंटर से जानकारी लेने को जुटी यात्रियों की भीड़।

ब्रह्मपुत्र मेल से उतरने के बाद हावड़ा रूट को जाने वाली फरक्का एक्सप्रेस में जाते यात्री

6 / 6ब्रह्मपुत्र मेल से उतरने के बाद हावड़ा रूट को जाने वाली फरक्का एक्सप्रेस में जाते यात्री

PreviousNext

बिहार और पूर्वोत्तर भारत में बाढ़ के कारण रविवार को कई ट्रेनों को बीच रास्ते ही रोककर खाली करा दिया गया। इससे स्टेशनों पर अफरातफरी और हंगामा मचा रहा। दिल्ली से गुवाहाटी जा रही ब्रह्मपुत्र एक्सप्रेस को मुगलसराय में रद कर यात्रियों को उतार दिया गया। 

यात्रियों के आक्रोश से बचने के लिए भारी पुलिस फोर्स तैनात रही। ब्रह्मपुत्र के अलावा लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस को पटना, ओखा गुवाहाटी को दानापुर, महानंदा को बरौनी, जम्मूतवी गुवाहाटी को खगड़िया, नार्थ ईस्ट एक्सप्रेस को कानपुर में खाली कराया गया। डिब्रूगढ़ राजधानी दिल्ली से ही निरस्त रही। 

रविवार की शाम करीब पांच बजे कंट्रोल से ब्रह्मपुत्र एक्सप्रेस को मुगलसराय में ही खाली कराने का आदेश आया। इसके बाद तैयारियां शुरू हो गईं। यात्रियों के हंगामे की आशंका पर स्टेशन को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया। जीआरपी, आरपीएफ के अलावा जिला पुलिस और पीएसी को भी स्टेशन पर बुला लिया गया। ट्रेन के पहुंचते ही जीआरपी ने डिब्बों के पास जाकर माइक से गाड़ी के रद होने की घोषणा शुरू की। काफी यात्री तो देर तक घोषणा पर विश्वास ही नहीं कर सके। जैसे-तैसे उन्हें समझाकर ट्रेन से निकाला गया और हावड़ा की ओर जाने वालों को फरक्का, पंजाब मेल और विभूति में बैठाया गया। 

एसी के यात्रियों को भी किसी तरह स्लीपर और जनरल कोचों में ही जगह मिली। वहीं, दर्जनों यात्रियों ने मुगलसराय में ही अपने टिकट रद करा दिये। सबसे ज्यादा परेशान परिवार के साथ सामान लेकर यात्रा करने वाले दिखाई दिये। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:floods in Bihar Brahmaputra Express stop in Mughalsarai