अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गंदगी से क्षुब्ध होकर किया प्रदर्शन

केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा स्वच्छता के लिए अभियान चलाया जा रहा है। लेकिन स्वच्छता अभियान सिर्फ कागजों पर सिमट कर रह जा रहा है। तहसील मुख्यायल से सटे सकलडीहा कस्बा में समुचित सफाई न होने से गंदगी का अंबार लगा रहता है। शिकायत के बाद भी सफाई न होने पर मंगलवार को ग्रामीणों की आक्रोश फूट पड़ा। ग्रामीणों ने शासन प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। 
ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि छह माह से गांव की नाली बजबजा रही है। नाला खोदकर छोड़ दिया गया है। गढ़ई को कुड़ा करकट डालकर पाट दिया गया है। सम्पूर्ण समाधान दिवस से लेकर पंचायत विभाग को अवगत कराया गया। बावजूद अधिकारी सिर्फ कागजों में साफ सफाई का झूठा दावा कर खानापूर्ति कर लिया। आक्रोशित ग्रामीणों ने नाला की साफ सफाई व मरम्मत की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। चेताया कि मुहर्रम त्योहार से पूर्व नाला की सफाई नहीं हुई, तो ताजियादार चौक से ताजिया नहीं उठायेंगे। इस मौके पर विरोध जताने वाले सोगरा बेगम, शैरून निशा, सरोजा देवी, बाची देवी, महराजी, नासीर, कालीचरण, कलाम, रियाजु, कांता, धीरेन्द्र, दुर्गेश, इस्लाम, आसिफ, नौसाद आदि मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Disturbed display of dirt