DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  चंदौली  ›  किशोरी की मौत से रहस्य उठाने की मांग
चंदौली

किशोरी की मौत से रहस्य उठाने की मांग

हिन्दुस्तान टीम,चंदौलीPublished By: Newswrap
Sun, 20 Jun 2021 03:21 AM
किशोरी की मौत से रहस्य उठाने की मांग

चंदौली। बबुरी थाना क्षेत्र के एक गांव की किशोरी की संदिग्ध परिस्थिति में हुई मौत से अब तक पर्दा नहीं उठ सका है। गरीब परिवार की बेटी के साथ जघन्य अपराध होने की आशंका जताते हुए पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर व उनकी पत्नी नूतन ठाकुर ने शनिवार को तीसरी बाद पत्र भेजकर जांच कराने और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने एडीजी जोन को पत्र भेजकर पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने की मांग की है।

बबुरी थाना क्षेत्र की 16 वर्षीया किशोरी अपने घर से बैंक जाने को साइकिल से निकली थी। दूसरे दिन किशोरी सोनभद्र जिले के सुकृत में झाड़ियों के किनारे मिली। परिजनों को सोनभद्र पुलिस से किशोरी के राबर्टसगढ़ जिला अस्पताल ले जाने की सूचना मिली। हालांकि जब तक परिजन पहुंचते, तब तक उसकी मौत हो गई। आरोप है कि बिना पोस्टमॉर्टम कराए ही जिला अस्पताल की ओर से विषाख्त पदार्थ के सेवन से मौत होने की पुष्टि करते हुए शव सौंप दिया गया। परिजनों ने शव को मिर्जापुर जिले के नरायनपुर के समीप पत्थर से बांधकर शव को गंगा में बहा दिया गया। अमिताभ ठाकुर व उनकी पत्नी नूतन ठाकुर ने सोनभद्र व चंदौली पुलिस की भूमिका व बयान पर संदेह जताया है। उन्होंने कहा कि किशोरी के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या की पूरी संभावना है। उन्होंने शव को गंगा नदी से बाहर निकलवाकर पोस्टमॉर्टम व मामले की गहनता से जांच कराने की मांग की है। उन्होंने कहा कि अपराधियों के बाहुबल से पीड़ित परिवार डरा सहमा है। इस वजह से पुलिस में तहरीर तक देने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा है। उन्होंने कहा कि इसके पहले 15 व 17 जून को भी पत्र भेजकर जांच की मांग की गई थी। लेकिन अब तक किसी तरह की कार्रवाई नहीं हुई। उन्होंने एसीएस होम, डीजीपी, मंडलायुक्त वाराणसी व मिर्जापुर, डीएम चंदौली व एसपी चंदौली सोनभद्र को भी प्रतिलिपित प्रेषित की है।

संबंधित खबरें