Tuesday, January 25, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश चंदौलीसाइक्लोन का असर, दिनभर छाए रहे बादल

साइक्लोन का असर, दिनभर छाए रहे बादल

हिन्दुस्तान टीम,चंदौलीNewswrap
Fri, 03 Dec 2021 03:11 AM
साइक्लोन का असर, दिनभर छाए रहे बादल

पीडीडीयू नगर। वरिष्ठ संवाददाता

ठंडी की दस्तक के साथ ही इधर मौसम सामान्य था लेकिन अरब सागर में उठ रही चक्रवाती हवाओं और बंगाल की खाड़ी में बन रहे चक्रवात का असर गुरुवार को दिखने लगा। सुबह से लेकर शाम तक दिनभर आसमान में बादल छाए रहे। दोपहर में कुछ देर के लिए हल्की धूप खिली लेकिन फिर बादल और धुंध छा गया। इससे ठंड का असर बढ़ गया है।

मौसम विज्ञानी के अनुसार चक्रवात का असर पूर्वांचल में पहुंच चुका है। इससे बारिश की भी प्रबल संभावना है। आसमान में बादल देखकर किसानों की चिंताएं भी बढ़ने लगी है। जो किसान अभी गेहूं की बोवाई नहीं कर सके हैं और जिन किसानों का धान नहीं बिक पाया है वे आसमान में बादल देखकर परेशान हो गए हैं। बीएचयू के पूर्व मौसम विज्ञानी प्रो एसएन पांडेय का कहना है कि अरब सागर में चक्रवाती तूफान का असर उत्तर प्रदेश में दिखने लगा है। आंध्रा प्रदेश से उड़ीसा के दक्षिणी भाग से होते हुए यह प्रवेश कर रहा है। वहीं दूसरी ओर बंगाल की खाड़ी में भी साइक्लोन बन रहा है। इसके चलते आसमान में बादल छाए हैं। इससे बारिश की काफी संभावना है।

बोले किसान, बारिश हुई तो होगा नुकसान

पीडीडीयू नगर। आसमान में बादल देखकर किसान परेशान हो उठे हैं। गोधना निवासी दल सिंगार यादव, नियामताबाद के रहने वाले लल्लन सिंह का कहना है कि धान की कटाई के बाद गेहूं की बोवाई नहीं हो पाई है। बारिश हो गई तो काफी नुकसान होगा। वहीं धान भी पूरा नहीं बिक पाया है। जिससे बारिश से भींगने का भय है। वहीं सरने गांव के जय शंकर दीक्षित और बिलारीडीह निवासी मारकंडेय बिंद का कहना है कि धान की कटाई के बाद उसे क्रय केंद्र पर बेचने की तैयारी चल रही है लेकिन मौसम का रुख देखकर नुकसान होने का भय सताने लगा है। बारिश हो गई तो गेहूं की बोवाई भी पिछड़ जाएगी।

epaper

संबंधित खबरें